Skip to main content

Posts

Showing posts with the label teen talak

तीन तलाक के खिलाफ आवाज़ उठाने वाली निदा को - अब कब्रिस्तान में भी जगह नहीं

यूपी : तीन तलाक जैसी कुप्रथा के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली बरेली की निदा खान के खिलाफ मुस्लिम मोलवी ने फतवा जारी कर दिया है ,जिसके तहत निदा खान का हुक्का पानी बंद कर दिया गया है | यह फतवा दरगाह आला हजरत के दारूल इफ्ता ने जारी किया है, इसमें कहा गया है कि निदा अल्‍लाह या खुदा के बनाए कानून का विरोध कर रही हैं. इस कारण उनके खिलाफ फतवा जारी किया जा रहा है. बरेली के शहर इमाम मुफ़्ती खुर्शीद आलम ने दरगाह आला हजरत पर हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि [caption id="attachment_7688" align="alignright" width="709"] s - net[/caption] निदा का हुक्का पानी बंद कर दिया गया है | सोमवार को जारी फतवे में कहा गया है कि निदा की मदद करने वाले, उनसे मिलने-जुलने वाले मुसलमानों को भी इस्लाम से खारिज किया जाएगा , निदा अगर बीमार हो जाती हैं तो उनको दवा भी नहीं दी जाएगी. निदा की मौत पर जनाजे की नमाज पढ़ने पर भी रोक लगा दी गई है, इतना ही नहीं निदा के मरने पर उन्‍हें कब्रिस्तान में दफनाने पर भी रोक लगा दी गई है | निदा खान ने किया पलटवार - कहा  पाकिस्तान चले जाए - निदा खान ने प्रेस कॉ

तलाक .......तलाक ..........तलाक अब नहीं , कांग्रेस ने किया समर्थन -

तीन तलाक ..............................संसद में बहस कुछ ख़ास - संसद में आज गुरुवार को तीन तलाक को लेकर जबरदस्त बहस हुई , लोकसभा में बिल को पेश करते हुए कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है मोदी सरकार मुस्लिम महिलाओं को उनका हक दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है इसके लिए यह बील लाई है | लोकसभा में कानून मंत्री  रविशंकर प्रसाद ने अपने  भाषण के साथ सदन में बिल सभी पहलुओं पर चर्चा की  लोकसभा में बिल पर चर्चा के दौरान कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि यह कानून महिलाओं के अधिकारों और न्याय के लिए लाया गया है। इस बिल का किसी भी व्यक्ति के प्रार्थना, संस्कार या धर्म , जाती से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि हमें मुस्लिम महिलाओं के दुख और परेशानियों को समझना होगा |यह बिल  महिलाओं के अधिकारों-न्याय के लिए है इसके साथ ही कानून मंत्री रविशंकर ने उत्तर प्रदेश के रामपुर की घटना का जिक्र करते हुए कहा की आज सुबह जब मैंने अखबार देखा तो खबर पढ़ी कि रामपुर में एक मुस्लिम महिला को उसके  पति ने सिर्फ इसलिए तलाक दे दिया, क्योंकि वो सुबह देर से सोकर उठी थी |  संसद को आज इन महिलाओं क

प्रधानमंत्री मोदी ने किया - तीन तलाक फ़ेसले का स्‍वागत -

  प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने तीन तलाक पर सर्वोच्‍च न्‍यायालय के फैसले का स्‍वा गत किया है। इ स शक्तिकरण की दिशा में एक प्रभावशाली उपाय है। फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे मुस्लिम महिलाओं को समानता का अधिकार मिलता है और यह महिला स   प्रधानमंत्री ने कहा, ‘तीन तलाक पर माननीय सर्वोच्‍च न्‍यायालय का फैसला ऐतिहासिक है। इससे मुस्लिम महिलाओं को समानता का अधिकार मिलता है और यह महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक प्रभावशाली उपाय है’।