Skip to main content

Posts

Showing posts with the label state

प्रदेश में बढ़ती अपराध की घटनाओं लगाये अंकुश : गहलोत

उदयपुर। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि प्रदेश में बढ़ती अपराध की घटनाओं पर राज्य सरकार को अंकुश लगाने का प्रयास करना चाहिए। एक दिवसीय दौरे पर उदयपुर आए गहलोत ने आज यहां मीडिया से कहा कि राज्य में बढ़ते अपराध के ग्राफ की हद पार हो चुकी हैं। राज्य में आये दिन बलात्कार, डकैती, चोरी जैसी घटनाओं में बढोत्तरी हो रही हैं। उन्होंने कहा कि सुना है गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया के पास कोई अधिकार नहीं हैं। उनके पास कोई अधिकार नहीं हैं तो उनको अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिये। उन्होंने कहा कि राज्य में बढ़ती अपराध की घटनाओं से माहौल खराब हो रहा हैं। उदयपुर में वाल्मिकी समाज के लोगों द्वारा नगर निगम में भर्ती संबंध में दिये जा रहे धरने पर उन्होंने कहा कि यह भारतीय जनता पार्टी सरकार की लापरवाही का नमूना हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के चार वर्ष पूरे हो चुके है। पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार द्वारा उदयपुर नगर निगम में सफाईकर्मियों की भर्ती की स्वीकृति की जा चुकी थी और इतना समय बीतने के बाद भी किन कारणों से भर्ती नहीं की जा रही हैं।

कानून व्यवस्था को लेकर कटारिया ने दिया बड़ा बयान, कहा...

जयपुर। राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चन्द कटारिया ने दावा किया कि प्रदेश में अपराध का ग्राफ काफी घटा है और कानून व्यवस्था की स्थिति पूर्ण नियंत्रण मेंं है। कटारिया ने सोमवार को विधानसभा में विधायक मामन सिंह के प्रश्न के जबाब में कहा कि थानों और पुलिस चौकियों की कमी है जिसे संसाघन मिलते ही पूरा कर लिया जाएगा।   उन्होंने कहा कि प्रदेश के जिन थानों में चौपहिया वाहन खराब है उनको बदलने के लिए इस बजट में होने वालें प्रावधानों से वाहन खरीद कर उपलब्ध कराए जाएंगे। उन्होंने कहा कि तिजारा क्षेत्र में अपराधों की संख्या 751 है। इसमें दो पुलिस चौकियां हैं और इनमें वाहन उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि अलवर जिले में 38 पुलिस थानें एवं 47 पुलिस चौकियां है। गौ तस्करी पर नियंत्रण के लिए अलग से चौकियां स्थापित की गई हैं। उन्होंने कहा कि अबकी बार चौकियों को दुपहिया वाहन उपलब्ध करा दिए जाएंगे। कटारिया ने बताया कि संसाधन उपलब्ध होते ही नए थाने खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस वर्ष 200-250 नए वाहन थानों को उपलब्ध करा दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जनता की सुविधा को ध्यान में रखते हुए थानों के क्षेत्र में भी परिवर्तन