Skip to main content

Posts

Showing posts with the label ram mandir

सुप्रीम कोर्ट: अयोध्या मामले की सुनवाई आज, 18 समीक्षा अर्जियों पर होगा फैसला

दिल्ली। सु्प्रीम कोर्ट के पांच जजों ने बितें दिनों अयोध्या  की विवादित भूमि का  2.77 एकड़ भूमि पर राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ कर दिया था। न्यायालय की वेबसाइट पर अपलोड की गयी कार्यसूची के अनुसार संविधान पीठ चैंबर में कुल 18 पुनर्विचार याचिकाओं पर विचार करेगी। इनमें से नौ याचिकायें तो इस मामले के नौ पक्षकारों की हैं जबकि शेष पुनर्विचार याचिकायें 'तीसरे पक्ष ने दायर की हैं। आपको बता दें कि  अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद में उच्चतम न्यायालय के नौ नवंबर के फैसले पर पुनर्विचार के लिये दायर याचिकाओं पर शीर्ष अदालत बृहस्पतिवार (12 दिसंबर) को चैंबर में विचार करेगी। प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ इन पुनर्विचार याचिकाओं पर चैंबर में विचार करेगी। बता दें कि  यह फैसला सुनाने वाली संविधान पीठ की अध्यक्षता कर रहे प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई चूंकि अब सेवानिवृत्त हो चुके हैं, इसलिए उनके स्थान पर संविधान पीठ में न्यायमूर्ति संजीव खन्ना को शामिल किया गया है। इस मामले में सबसे पहले दो दिसंबर को पहली पुनर्विचार याचिका मूल वादी एम सिदि्दक के

बसपा सुप्रीमो ने किया - जय प्रकाश को आउट

बसपा सुप्रीमो ने आज पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया ,जेपी को पार्टी से निकालते हुए मायावती ने कहा कि उन्होंने न सिर्फ पार्टी की विचारधारा के खिलाफ बयानबाजी की, बल्कि विरोधी पार्टी के नेताओं पर व्यक्तिगत टिप्पणियां भी कीं जो की गलत है | क्या मोहरा बने है  - जय प्रकाश को कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गाँधी के खिलाफ बयान बाजी करना महंगा पड़ा है क्योकि जेपी ने राहुल गाँधी के विदेशी अर्थात सोनिया गांधी के जैसा होना बताया उन्होंने कहा की अगर राहुल गाँधी अपने पिता राजीव गाँधी नक्शे कदम पर चलते तो शायद राजनीती में कामयाब हो जाते , लेकिन राहुल गाँधी उनकी माँ सोनिया पर गए है इसलिए वह कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते | जबकि वर्तमान में बसपा और कांग्रेस में राजस्थान ,छतीसगढ़  में गठबंधन की संभावना है | अ ति -उत्साहित -  हाली में लखनऊ में 16 जुलाई को बसपा के सीनियर कार्यकर्ताओं की मीटिंग थी ,जिसमे जय प्रकाश काफी उत्साहित नज़र आ रहे थे अपने भाषणों में मायावती को 2019 का प्रधानमंत्री का दावेदार बताया साथ ही विरोधियों पर जमकर बरसे थे साथ ही मायावती को साक्षा

मोदी ने साधा कपिल सिब्बल पर निशाना- राम मंदिर कैसे जुड़ा है 2019 चुनाव से

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने आज अहमदाबाद के धंधुका में रैली की। वहां पीएम ने कहा कि धंधुका के लोगों से उनका करीबी रिश्ता रहा है।मोदी  ने भीम राव अंबेडकर की पुण्यतिथि पर उनको श्रद्धांजलि देते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। 1956 में आज ही के दिन बाबा साहेब अंबेडकर का निधन हो गया था। राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद का जिक्र करते हुए पीएम ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर निशाना सा धा। कोर्ट में सुन्नी वक्फ बोर्ड की तरफ से पेश हुए कपिल सिब्बल का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि वह मुस्लिम समाज की तरफ से पेश हुए इस पर मुझे कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन वह यह कैसे कह सकते हैं कि मामले पर 2019 के चुनाव से पहले कोई फैसला ना हो? यह लोक सभा चुनाव से कैसे जुड़ा हुआ है। ट्रिपल तलाक के मामले का जिक्र कर मोदी ने कहा कि जब मामला कोर्ट में था जब सब कह रहे थे कि मैं यूपी चुनाव की वजह से कुछ नहीं बोलूंगा, लोगों ने भी मुझसे कहा था कि बोलोगे तो चुनाव हार जाओगे, लेकिन मैं चुप नहीं रहा।

राम मंदिर के लिए जेल भी जा सकती हूँ -उमा भारती

केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर शनिवार को कहा कि यह उनकी आस्था का विषय है और इसके लिए उन्हें जेल भी जाना पड़े तो जाएंगी। उमा भारती ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘राम मंदिर मेरी आस्था का विषय है। मेरे विश्वास का विषय है। मुझे इस पर गर्व है। अगर जेल भी जाना पड़े तो जाऊंगी, फांसी पर लटकना पड़े तो लटक जाऊंगी।’ जब सवाल किया गया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ मुलाकात के दौरान क्या अयोध्या में राम मंदिर निर्माण पर चर्चा हुई तो उमा ने कहा, 'राम मंदिर पर हमें बात करने की जरूरत कहां रहती है। इस विषय पर हम (योगी और उमा) अजनबी नहीं हैं। योगी जी के गुरू महंत अवैद्यनाथ राम मंदिर आंदोलन के पुरोधा थे।' उन्होंने कहा कि मामला सुप्रीम कोर्ट में है इसलिए वह ज्यादा नहीं बोलेंगी, लेकिन खुद सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि मामले का हल अदालत से बाहर भी हो सकता है। उमा भारती ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ‘पक्के इरादों वाला’ बताते हुए कहा कि गंगा सहित विभिन्न नदियों की सफाई के अलावा बुंदेलखंड में सिंचाई सुविधाएं मुहैया कराने की दि