Skip to main content

Posts

Showing posts with the label rajpal singh shekhawat

कांग्रेस की तकलीफों का निवारण नहीं : भाजपा

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में सत्ता पक्ष ने किसानों के फसल रिणमाफी को लेकर कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि किसानों की समस्याओं का समाधान उनके पास है, लेकिन कांग्रेस की तकलीफ का नहीं है। उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने संवादाताओं से कहा कि भाजपा सरकार पांच वर्षो के कार्यकाल के अंत तक प्रदेश के किसानों को ब्याज मुक्त रिण, रिणमाफी, अनुदान के रूप में 1.35 लाख करोड़ रूपये की सहायता दे देगी। उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े चार वर्षो में सरकार ने संसाधनों को किसानों के कल्याण के लिये लगाया है। उन्होंने कहा कि पांच वर्षो में 1.35 लाख करोड़ से ज्यादा संसाधनों को किसानों के कल्याण के लिये लगा दिया जायेगा। बजट में 8 हजार करोड़ रूपये की रिणमाफी की घोषणा इसका हिस्सा है। उन्होंने कहा कि हम पांच वर्ष के कार्यकाल के अंत तक 80 हजार करोड़ रूपये ब्याज मुक्त रिण उपलब्ध करायेंगे, जबकि पूर्ववर्ती कांग्रेस ने पूरे पांच वर्षो में 25 हजार करोड़ के रिण उपलब्ध कराये। भाजपा सरकार हर वर्ष किसानों की भलाई के लिये काम कर रही है। उन्होंने कहा कि किसानों की समस्याओं का निवारण तो हमारे पास है, लेकिन कांग्रेस की तकलीफों का

राजस्थान में 14 हजार से अधिक फर्जी कंपनिया - राज्य सरकार ने दिए जाँच के आदेश

प्रदेश में भी 14 हजार से अधिक शेल कंपनियां  संदेहास्पद व शेल कंपनियों की  परिसंपतियाें की पहचान होगी-उद्योग मंत्री  जयपुर, 28 दिसंबर। उद्योग मंत्री श्री राजपाल सिंह शेखावत ने कहा है कि राज्य में संदेहास्पद एवं शेल कंपनियों की परिसंपतियाें की पहचान की जाएगी। उन्होंने बताया कि इसके लिए उद्योग विभाग को नोडल विभाग बनाते हुए संबंधित विभागों को 15 दिवस में कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। श्री शेखावत ने बताया कि केन्द्र सरकार ने पिछले दिनों देश में 2 लाख 24 हजार 734 संदेहास्पद  एवं शेल कंपनियों को अभियान चलाकर चिन्हित कर अपंजीकृृत कर दिया हैं। इन कंपनियों की सूची केन्द्र सरकार की वेबसाइट पर भी देखी जा सकती है। उन्होंने बताया कि एक मोटे अनुमान के अनुसार इनमें से 14 हजार से अधिक कंपनियां प्रदेश की भी है। श्री शेखावत ने बताया कि इन शेल कंपनियों की परिसंपतियां देश के अन्य राज्यों की तरह प्रदेश में भी हो सकती है। उन्होंने कहा है कि सरकार द्वारा अपंजीकृृत संदेहास्पद एवं शेल कंपनियां की परिसंपतियां पंजीयन एवं मुद्रांक विभाग, भूमि के संदर्भ में राजस्व विभाग, औद्योगिक भूमि के संदर्भ में उद्योग विभाग

उत्तरी भारत में निवेश की राजधानी बनता राजस्थान - उद्योग मंत्री

जयपुर, 24 नवंबर। उद्योग व राजकीय उपक्रम मंत्री श्री राजपाल सिंह शेखावत ने राजस्थान में निवेश की विपुल संभावनाएं बताते हुए कहा कि राजस्थान उत्तरी भारत में निवेश राजधानी बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि आर्थिक विकास की सफलता के लिए विकास में ह्यूमन फेस होना आवश्यक है और केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा आर्थिक क्षेत्र में उठाए गए सुधारात्मक प्रयास इस दिशा में बढ़ते हुए कदम हैं। उद्योग मंत्री श्री शेखावत शुक्रवार को जयपुर में यस बैंक द्वारा आयोजित यंग एन्टरप्रोन्योर कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि एमएसएमई क्षेत्र में मेन्यूफेक्सरिंग के साथ ही सेवा क्षेत्र को और जोड़ दिया जाए तो 35 प्रतिशत तक जीडीपी में भागीदारी तय हो सकती है। उन्होंने कहा कि औद्योगिक निवेश के लिए निवेशक कच्चा माल, आधारभूत सुविधाएं, मानव संसाधन, कानून व्यवस्था को देखते हैं और इसमें राजस्थान अग्रणी प्रदेश होने से निवेशक राजस्थान की और आकर्षित हो रहे हैं। उन्होेंने कहा कि डीएमआईसी, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और फ्रंट कोरिडोर का अधिकांश हिस्सा राजस्थान में आने से राजस्थान में औद्