Skip to main content

Posts

Showing posts with the label rajendr rathod

प्रदेश के मीसाबंदी अब कहलाएंगे - लोकतंत्र रक्षक सैनानी

जयपुर, 12 दिसम्बर। आपातकाल के दौरान राजनीतिक और सामाजिक कारणों से जेल में बंद रहे प्रदेश के मीसाबंदी अब लोकतंत्र रक्षक सैनानी के रूप में जाने जाएंगे। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे की अध्यक्षता में मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में हुई मंत्रिमण्डल की बैठक में ‘राजस्थान मीसा एवं डी.आई.आर. बंदियों को पेंशन नियम, 2008‘ में संशोधन का निर्णय लिया गया। संसदीय कार्य मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने मंत्रिमण्डल की बैठक में हुए निर्णयों की जानकारी मीडिया को देते हुए बताया कि राजस्थान मीसा एवं डी.आई.आर. बंदियों को पेंशन नियम, 2008 में संशोधन कर इसका नाम ‘राजस्थान लोकतन्त्र रक्षक सम्मान निधि नियम, 2008‘ किया जाएगा। अब राजस्थान के मूल निवासी ऎसे बंदी जो आपातकाल के दौरान राज्य से बाहर की जेलों में रहे हैं उन्हें भी इन नियमों के तहत पेंशन एवं भत्ते दिए जाएंगे। अब तक सिर्फ राजस्थान की जेलों में बंद रहे राज्य के मूल निवासी मीसा बंदी ही पेंशन और भत्ते के हकदार थे। amzn_assoc_ad_type ="responsive_search_widget"; amzn_assoc_tracking_id ="politico24x7-21"; amzn_assoc_marketplace =&q

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को पुष्पांजलि अर्पित-

गांधी सर्किल पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को पुष्पांजलि अर्पित.... जयपुर, 02 अक्टूबर। गांधी जयन्ती के अवसर जवाहरलाल नेहरू मार्ग स्थित गांधी सर्किल पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री कालीचरण सराफ तथा ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने पुष्पांजलि अर्पित की। इस अवसर पर शहीद ले. अभय पारीक सीनियर सैकण्डरी स्कूल, गांधीनगर की अध्यापिकाओं एवं छात्राओं ने बापू के प्रिय भजनों की प्रस्तुति दी। उन्होंने वैष्णवजन तो तैने कहिए,पायो जी मैंने रामरतन धन पायों और रघुपति राघव राजाराम जैसे गांधी जी के प्रिय भजनों से वातावरण को भक्तिमय बना दिया। इस अवसर पर राजस्थान राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष श्री जसबीर सि हं, जनप्रतिनिधिगण, जिला कलेक्टर श्री सिद्धार्थ महाजन, जयपुर नगर निगम के आयुक्त श्री रवि जैन, सूचना एवं जनसम्पर्क निदेशक श्रीमती अनुप्रेरणा सिंह कुन्तल सहित गणमान्यजन उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन सहायक जनसम्पर्क अधिकारी श्री गजाधर भरत ने किया।  

राजस्थान में सरकारी स्कूल अब - पीपीपी मॉडल पर

  " पीपीपी मॉडल पर संचालित होंगे 300 सरकारी स्कूल " जापान के सहयोग से इंजीनियरों के लिए खुलेगा कौशल विकास केन्द्र  जयपुर, 5 सितम्बर। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे की अध्यक्षता में मंगलवार को मुख्यमंत्री निवास में हुई मंत्रिमण्डल की बैठक में राज्य के 300 सरकारी विद्यालयों को पीपीपी मॉडल पर संचालित करने तथा जापान सरकार के सहयोग से युवा इंजीनियरों के प्रशिक्षण के लिए कौशल विकास संस्थान स्थापित करने सहित कई महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गए।  संसदीय कार्य मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने मंत्रिमण्डल की बैठक में हुए निर्णयों की जानकारी मीडिया को देते हुए बताया कि मंत्रिमण्डल ने प्रदेश में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने और पिछड़े क्षेत्रों में बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा उपलब्ध कराने के उद्ेश्य से स्कूल शिक्षा विभाग की सार्वजनिक-निजी सहभागिता (पीपीपी) नीति-2017 को मंजूरी दी है। इस नीति के तहत प्रथम चरण में राज्य के कुल 9895 माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में से 300 विद्यालयों को पीपीपी मोड पर संचालित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि राज्य के  आदर्श विद्यालय तथा संभागीय एवं जिला मुख्यालयों के