Skip to main content

Posts

Showing posts with the label rajasthannews

राजस्थान की 9310 ग्राम पंचायतें खुले में शौच से मुक्त घोषित :राजेंद्र राठौड़

जयपुर। राजस्थान ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने आज विधानसभा में बताया कि राजस्थान की नौ हजार 310 ग्राम पंचायतें खुले में शौच से मुक्त (ओडीएफ) घोषित हो चुकी हैं। राठौड़ ने शून्यकाल में इस विषय पर उठाए गए मुद्दे पर हस्तक्षेप करते हुए बताया कि वर्तमान में राज्य की 9 हजार 891 ग्राम पंचायतों में से 9 हजार 310 ग्राम पंचायतें (94.13 प्रतिशत) ओडीएफ हो चुकी हैं। राज्य में 79 लाख 58 हजार पात्रताधारी व्यक्तियों के व्यक्तिगत शौचालय बनाये जाने थे, जिसके तहत 78033 शौचालय बना लिये गये हैं।   उन्होंने बताया कि वर्ष 2016-17 के बजट में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मुख्यमंत्री स्वच्छ ग्राम योजना की घोषणा की थी। इस योजना के तहत दिये गये दिशा-निर्देशों में ओडीएफ हो चुकी दो हजार ग्राम पंचायातों में डेढ़ सौ परिवारों का कलस्टर बनाकर इन परिवारों का कचरा, सामुदायिक कचरा पात्र में डालने के लिए डेढ़ सौ परिवारों में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) से दो श्रमिक और एक मेट के रूप में स्वच्छता सखी को नियोजित करने का निर्णय लिया गया था, जिसके तहत सफाई उपकरण तिपहिया व

BJP की जीत का दौर अब खत्म होने वाला है: प्रकाश करात

झुंझुनू। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की पोलितब्यूरो के सदस्य प्रकाश करात ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जीत का दौर अब खत्म होने वाला है। करात ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि गुजरात चुनाव में जिस तरह से परिणाम सामने आए है उससे साफ हो गया है कि उसके खिलाफ असंतोष बढ़ रहा है और आने वाले दिनों में यह भाजपा को पीछे लाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की कमजोरी का फायदा भाजपा को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में आगामी फरवरी में विधानसभा चुनाव प्रस्तावित है जहां पर माकपा की सीधी टक्कर भाजपा से होगी। इसके परिणाम देश को नई दिशा देंगे। उन्होंने कहा कि जहां-जहां भाजपा की कांग्रेस से टक्कर थी भाजपा वहीं पर जीती है। अब जिन राज्यों में वामपंथी पार्टियां और क्षेत्रीय पार्टियां है। वहां पर भाजपा को मुंह की खानी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि राजस्थान में भी जनवादी आंदोलन को मजबूत करने के लिए धरती तैयार की जा रही है। हर वर्ग भाजपा सरकार से दुखी है जिसके लिए प्रदेश में जनवादी आंदोलन खड़ा किया जाएगा।   इस अवसर पर किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष कॉमरेड अमराराम ने कहा कि किसान अपनी मांगों को ल

चिकित्सकों की हड़ताल समाप्त कराने अब BJP अध्यक्ष भी जुटे

जयपुर। राजस्थान में चिकित्सकों और सरकार के बीच बने गतिरोध को समाप्त कर हड़ताल समाप्त कराने के लिए चिकित्सा मंत्री के साथ सरकार के दो तीन मंत्री भी जुट गए हैं। अब भाजपा अध्यक्ष अशोक परनामी की मध्यस्थता में उनके निवास पर बुधवार को वार्ता के लिए बुलाया गया है। इससे पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी के निवास पर मंगलवार की रात नौ बजे चिकित्सकों के साथ वार्ता का समय तय हुआ था लेकिन वे नहीं आए, अब उनकी तरफ से बुधवार सुबह ग्यारह बजे का समय तय किया गया है। परनामी ने चिकित्सकों से काम पर लौटने की अपील करते हुए भरोसा दिलाया है कि उन्हें वार्ता के लिए आते समय ग्रीन कॉरिडोर की सुविधा दी जाएगी। उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। दूसरी ओर चिकित्सा मंत्री ने कहा है कि चिकित्सक यदि बुधवार को काम पर नहीं लौटेंगे तो उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा और उनका पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा। उधर सेवारत चिकित्सक संघ के अध्यक्ष डॉ.अजय चौधरी की ओर से सरकार को सात सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपा गया है। सरकार और चिकित्सकों के बीच बातचीत में गतिरोध अध्यक्ष डॉ़ अजय चौधरी सहित 12 चिकित्सकों के तबादले रद्द करने को लेकर आया ह

राजस्थान: डॉक्टरों की हड़ताल से प्रदेश में चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित

राजस्थान डेस्क। राजस्थान में सेवारत चिकित्सकों की हड़ताल से प्रदेश में चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित हुई हैं। उधर सेवारथ चिकित्सक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अजय चौधरी ने प्रशासनिक लाबी द्वारा फंसाए जाने और जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा देने की गुहार की है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अनुसार चिकित्सकों की हड़ताल को देखते हुए प्रदेश में अतिरिक्त प्रबंध कर रोगियों की देखभाल की जा रही है। सेवारथ चिकित्सक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अजय चौधरी ने एक वकील को भेजे व्हाट्सएप सन्देश में प्रशासनिक अधिकारियों की लॉबी से खुद की जान का खतरा बताते हुए अदालत के समक्ष यह बिन्दु रखकर सुरक्षा दिलाने की मांग की है। इस बीच, सामूहिक अवकाश लेकर हड़ताल पर गए चिकित्सकों के समर्थन में निजी अस्पतालों ने शुक्रवार सुबह तीन घंटे कार्य बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। निजी अस्पतालों के चिकित्सक गुरुवार को काली पट्टी बांधकर मरीजों को देख रहे हैं।   गौरतलब है कि राज्य सरकार ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं को सेवा घोषित कर रेस्मा लागू कर दिया है और हड़ताल का समर्थन कर रहे चिकित्सकों को गिरफ्तार किया जा रहा है