Skip to main content

Posts

Showing posts with the label punjab

उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में, 48 घंटों में 38 की मौत

नई दिल्ली। तीव्र शीतलहर से सम्पूर्ण उत्तर भारत प्रभावित है। इनमें उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में सामान्य जीवन प्रभावित हुआ है। उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटों में 38 लोगों के मौत की सूचना है। शीर्ष मौसम वैज्ञानिकों को आशंका है कि जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की बेरुखी सामने आई है। भूमध्य सागर में उत्पन्न होने वाले असमान्य और शक्तिशाली 'पश्चिमी विक्षोभ' ने हिंदी पट्टी सहित समूचे उत्तर भारत को बीते पखवाड़े से ठिठुरने को मजबूर किया है। यह स्थिति चार से पांच दशकों में एक बार पैदा होती है, जो लोगों को नए साल की पूर्व संध्या पर भी कंपकंपाएगी। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. राजेंद्र जेनामणि ने कहा, 'यह लंबी अवधि है, जिसकी प्रकृति अनोखी है और यह पूरे उत्तरपश्चिम भारत पर असर डालेगी।' शीर्ष वैज्ञानिकों को आशंका है कि जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की बेरुखी सामने आई है और अप्रत्याशित मौसम की यह स्थिति लोगों को परेशान करती रहेगी। गंगा के मैदानी क्षेत्रों में घना कोहरा और हिंद महासागर की असामान्य वार्मिंग पश्चिमी विक्षोभ के लिए जिम्मेदा

जब सूखा पड़ेगा तो जनता को हमारी याद अाएगी : सुखवीर सिंह बादल

नई दिल्ली। पंजाब के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखवीर सिंह बादल ने शनिवार को कहा कि उन्होंने अपने राज में लोगों को इतना कुछ दे दिया कि लोग उसे पचा नहीं पाए और उल्टी कर दी। बादल ने यह बात अपनी पार्टी के कार्यकर्ताअों को संबोधित करते हुए कहा। बादल अबोहर के सीतो रोड स्थित एक पैलेस में हलका बल्लूआना के अकाली-बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। जब सूखा पड़ेगा तो जनता को हमारी याद अाएगी बादल ने वोटरों की तुलना एक एेसे शख्स से कर दी जिसे बहुत सारा खाना खिला दिया गया हो और इस वजह से उसने उल्टी कर दी हो। उन्होंने कहा, 'यह ऐसा है कि जैसे किसी को खाने के लिए बहुत कुछ मिल जाए और वह उल्टी कर दे। तो हमने दरअसल लोगों को खाने के लिए बहुत ज्यादा दे दिया।' लेकिन साथ ही यह भी कहा है कि अाने वक्त में जब सूखा पड़ेगा तो जनता को उनकी याद अाएगी। अपनी सरकार को 5 साल का रेस्ट मिला है बताया जा रहा है कि इसी दौरान बादल ने अपने कार्यकर्ताअों की भी जमकर तारीफ की। कार्यकर्ताअों का हौंसला बढ़ाते हुए कहा है कि उनकी सरकार को 5 साल का रेस्ट मिला है। पांच साल बाद सूबे में फिर अकाली-बीजेपी गठबंधन सत्ता में आएगा।