Skip to main content

Posts

Showing posts with the label governmentnews

त्रिपुरा के सपनों को साकार करने में केंद्र करेगा पूरी मदद : PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि केंद्र सरकार त्रिपुरा के विकास और यहां के लोगों के सपनों को पूरा करने के लिए हरसंभव मदद देगी। मोदी ने त्रिपुरा में बिप्लब देव सरकार के शपथग्रहण समारोह के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जिन सपनों को लेकर यह सरकार बनी है।   उसे पूरा करने में केंद्र सरकार राज्य के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेगी उन्होंने नयी सरकार से विकास का नया दीप जलाने का अनुरोध करते हुए कहा कि सरकार जितनी तेजी से काम करेगी, उसे केंद्र हरसंभव सहायता देगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार किसी दल की होती है लेकिन जनता किसी पार्टी की नहीं होती है। वह देश की है और इसी मूलमंत्र पर उनकी सरकार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि विपक्ष में जो लोग विधायक चुने गये हैं, उन्हें शासन का लंबा तर्जुबा और अनुभव है जबकि हमारी टीम नयी और कम उम्र की है। यह उमंग और उत्साह से परिपूर्ण है। हम चाहते हैं कि सत्तापक्ष और विपक्ष मिलकर काम करे और त्रिपुरा को विकास की नयी बुलंदियों तक पहुंचाये।

राजस्थान की 9310 ग्राम पंचायतें खुले में शौच से मुक्त घोषित :राजेंद्र राठौड़

जयपुर। राजस्थान ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने आज विधानसभा में बताया कि राजस्थान की नौ हजार 310 ग्राम पंचायतें खुले में शौच से मुक्त (ओडीएफ) घोषित हो चुकी हैं। राठौड़ ने शून्यकाल में इस विषय पर उठाए गए मुद्दे पर हस्तक्षेप करते हुए बताया कि वर्तमान में राज्य की 9 हजार 891 ग्राम पंचायतों में से 9 हजार 310 ग्राम पंचायतें (94.13 प्रतिशत) ओडीएफ हो चुकी हैं। राज्य में 79 लाख 58 हजार पात्रताधारी व्यक्तियों के व्यक्तिगत शौचालय बनाये जाने थे, जिसके तहत 78033 शौचालय बना लिये गये हैं।   उन्होंने बताया कि वर्ष 2016-17 के बजट में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मुख्यमंत्री स्वच्छ ग्राम योजना की घोषणा की थी। इस योजना के तहत दिये गये दिशा-निर्देशों में ओडीएफ हो चुकी दो हजार ग्राम पंचायातों में डेढ़ सौ परिवारों का कलस्टर बनाकर इन परिवारों का कचरा, सामुदायिक कचरा पात्र में डालने के लिए डेढ़ सौ परिवारों में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) से दो श्रमिक और एक मेट के रूप में स्वच्छता सखी को नियोजित करने का निर्णय लिया गया था, जिसके तहत सफाई उपकरण तिपहिया व

राजस्थान: डॉक्टरों की हड़ताल से प्रदेश में चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित

राजस्थान डेस्क। राजस्थान में सेवारत चिकित्सकों की हड़ताल से प्रदेश में चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित हुई हैं। उधर सेवारथ चिकित्सक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अजय चौधरी ने प्रशासनिक लाबी द्वारा फंसाए जाने और जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा देने की गुहार की है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अनुसार चिकित्सकों की हड़ताल को देखते हुए प्रदेश में अतिरिक्त प्रबंध कर रोगियों की देखभाल की जा रही है। सेवारथ चिकित्सक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अजय चौधरी ने एक वकील को भेजे व्हाट्सएप सन्देश में प्रशासनिक अधिकारियों की लॉबी से खुद की जान का खतरा बताते हुए अदालत के समक्ष यह बिन्दु रखकर सुरक्षा दिलाने की मांग की है। इस बीच, सामूहिक अवकाश लेकर हड़ताल पर गए चिकित्सकों के समर्थन में निजी अस्पतालों ने शुक्रवार सुबह तीन घंटे कार्य बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। निजी अस्पतालों के चिकित्सक गुरुवार को काली पट्टी बांधकर मरीजों को देख रहे हैं।   गौरतलब है कि राज्य सरकार ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं को सेवा घोषित कर रेस्मा लागू कर दिया है और हड़ताल का समर्थन कर रहे चिकित्सकों को गिरफ्तार किया जा रहा है