Skip to main content

Posts

Showing posts with the label dalit ekata

एससी/ एसटी एक्ट को निष्प्रभावी करने के विरोध में -सामाजिक न्याय की लड़ाई के लिए आगे आएं युवा

भारत का अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति युगों-युगों से अश्पृश्यता,भेदभाव,निर्योग्यता, शोषण,उत्पीड़न एवं वंचना का शिकार रहा है । दुनिया में विश्व शान्ति का संदेश देने वाले तथागत गौतम बुद्ध,समतामूलक समाज निर्माण के पक्षधर , संत कबीर,संत रैदास,संत गाडगे द्वारा जनजागरण के माध्यम से जाति-प्रथा उन्मूलन,भेदभाव के समाप्ति पर बल दिया गया है। पेरियार रामास्वामी नायकर,ज्योतिबा राव फूले,बाबा साहेब डॉ० भीमराव आंबेडकर जैसे क्रांतिकारी महापुरुषों की प्रेरणा से स्फूर्त जन आंदोलन के फलस्वरूप अनुसूचित जाति/ जनजाति में लोकतांत्रिक चेतना का संचार हुआ। लेकिन आज SC/ST/OBC वर्गों के कानूनों पर ब्राह्मणवादी ताकतों ने चौतरफा हमला बोल रखा है।ये अन्ययायकारी ब्राह्मणवादी ताकतें पदोन्नति में आरक्षण को जड़ से ही खत्म कर दिया है और अब अनुसूचित जाति/ जनजाति के लिए बने कानून SC/ST एक्ट को निष्प्रभावी कर दिया गया है एक तरह से कहें तो खत्म ही कर दिया है। अब अगर SC/ST के किसी भी व्यक्ति पर कोई अन्याय होता है तो उस पर सीधे FIR नही हो सकेगी,मुकदमा दर्ज नही हो सकेगा बल्कि महीनों और सालों लग जाएंगे जांच होने में और तब भी जज के

भीम आर्मी ने दिखाया दम - दिल्ली में गूंजा अन्याय अब नहीं -

नई दिल्ली। दिल्ली के जंतर मंतर पर देशभर से भीम आर्मी के समर्थन में लोगों का पहुंचना जारी है। सहारनपुर में हुई जातीय संघर्ष की सीरियल घटनाओं के बाद तेजी से सुर्खियां बटोरने वाली भीम आर्मी ने रविवार को दिल्ली में काफी भी ड़ इकट्ठा कर ली। सुबह दस बजे ही जंतर-मंतर भीम आर्मी के रंग में रंग गया। सरकार को भी ये अंदेशा नहीं था कि बिना किसी राजनैतिक दल के समर्थन के लाखों की संख्या में लोग इस प्रदर्शन में पहुंच जाएंगे। यहां बड़ी तादाद में युवा पहुंचे हैं और खास बात यह रही कि अधिकांश युवा यहां भीम आर्मी सेना के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण का मुखौटा लगाकर पहुंचे हैं। बाबासाहेब अमर रहे, जय भीम और अन्याय करने वाले से भी ज्यादा अन्याय सहने वाला अपराधी है जैसे नारों के साथ बड़ी संख्या में युवाओं के जत्थे जंतर-मंतर पहुंचे हैं। ऐसा पहली बार है कि दलित युवा दिल्ली में इतनी तादाद में पहुंचे हो। इस महारैली को वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल, दलित युवा नेता जिग्नेश मेवाणी, भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद, जेएनयू के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, शेहला रशीद, बहुजन संघर्ष दल के फूलसिंह बरैया समेत कई द