Skip to main content

Posts

Showing posts with the label congress

दोहरे झटके: झारखंड में हार से भाजपा को राज्यसभा सीटों का होगा नुकसान

नई दिल्ली। झारखंड में राज्यसभा की कुल 6 सीटें हैं, जिनमें वर्तमान में बीजेपी का तीन पर, कांग्रेस और लालू यादव की पार्टी राजद का एक-एक पर कब्जा है। साल 2020, 2022 और 2024 में दो-दो सीटों पर झारखंड में द्विवार्षिक चुनाव होंगे। झारखंड चुनाव के नतीजों के बाद भाजपा को राज्यसभा में सीटों का नुकसान हो सकता है। भले ही अगला लोकसभा चुनाव 2024 में है, मगर उससे पहले राज्यसभा के चुनावों में बीजेपी को झटका लग सकता है। झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 में हार बीजेपी के लिए दोहरे झटके की तरह है। झारखंड में हार से बीजेपी को न सिर्फ सत्ता गंवानी पड़ी है, बल्कि इसका खामियाजा संसद में भी भुगतना पड़ सकता है। बता दें कि झारखंड चुनाव में जेवीएम (प्रजातांत्रिक) ने बीजेपी के खिलाफ चुनाव लड़ा था, मगर अब उसने बीजेपी को समर्थन देना का फैसला लिया है। इन सभी सीटों पर भारतीय जनता पार्टी और जेएमएम-कांग्रेस-राजद गठबंधन के बीच सीधा मुकाबला होगा। क्योंकि राज्य विधानसभा में मौजूदा सियासी अंकगणित ने इसे पेचीदा बना दिया है। विधानसभा और लोकसभा चुनाव के विपरीत राज्य के निर्वाचित विधायक उच्च सदन के उम्मीदवार के लिए वोट करते हैं। झ

विधानसभा चुनाव: झारखण्ड में गठबंधन को प्रचंड बहुमत, 27 को शपथ लेंगे हेमंत सोरेन

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम), कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) गठबंधन ने बहुमत हासिल कर लिया है। 27 दिसंबर को हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। जेएमएम के 6, कांग्रेस के 5 और आरजेडी के कोटे से एक मंत्री शपथ लेंगे। यानी हेमंत सोरेन के साथ 12 मंत्री शपथ लेंगे। इसके अलावा कांग्रेस के खाते में स्पीकर पद जा सकता है। बता दें कि बीजेपी को करारी हार का सामना करना पड़ा है। पिछले विधानसभा चुनावों में जहां बीजेपी ने 37 सीटें जीती थीं, वहीं वह इस बार सिर्फ 25 सीटें मिल पाईं। बीजेपी की सहयोगी रही आजसू पिछली विधानसभा में सिर्फ आठ सीटें लड़कर पांच सीटों पर जीती थी, जबकि इस बार उसने 53 सीटें लड़कर महज दो सीटें जीत पाई। झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम), कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) गठबंधन को प्रचंड बहुमत मिला है। गठबंधन ने 81 में से 47 सीटें जीती हैं। इस जीत के बाद अब गठबंधन के नेता जल्द ही सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। बता दें कि बीजेपी के लिए महतो वोटबैंक में घाटा साबित हुआ है। बिहार में जेडीयू और बीजेपी गठबंधन में हैं लेकिन झारखंड मे

झारखंड विधानसभा चुनाव: जेएमएम और कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत, BJP ने स्वीकारी हार

नई दिल्ली। झारखंड विधानसभा की 81 सीटों के लिए पांच चरणों में मतदान की गणना में भाजपा को जेएमएम कांग्रेस गठबंधन ने फिर काफी पीछे छोड़ दिया है। जेएमएम अकेले 30 सीटों पर आगे हो गई है और बीजेपी को पीछे छोड़ राज्य में सबसे बनी पार्टी बन गई है। गठबंधन 47 सीटों पर आगे हो गया है अब देखने वाली बात ये है कि क्या गठबंधन जीत का 'अर्द्धशतक' लगा पाएगी? यानी क्या 50 सीटें उसे मिलेंगी? जमशेदपूर्व से मुख्यमंत्री रघुबर दास इस समय बागी सरयू राय से काफी पीछे हो गए हैं। अभी तक मिल रहे रुझानों के मुताबिक मुख्यमंत्री सहित 5 मंत्री हार की ओर जाते दिख रहे हैं। झारखंड विधानसभा में बहुमत के लिए 41 सीटें चाहिए। झारखंड में गठबंधन के बढ़त की ओर लगातार बढ़ने के बाद कांग्रेस ने सोमवार को उम्मीद जताई कि राज्य में इस गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिलेगा और हेमंत सोरेन के नेतृत्व में अगली सरकार बनेगी। कांग्रेस के झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह ने कहा, 'हमने लोगों के जीवन को छूने वाले मुद्दे उठाते हुए चुनाव लड़ा। हमें विश्वास है कि हम सरकार बनाएंगे। JMM- कांग्रेस गठबंधन को मिली बढ़त के बाद हेमंत सोरेन पिता शिबू सोरेन से

नागरिकता संशोधन अधिनियम: गृहमंत्री अमित शाह बोले, कानून को वापस लेने की कोई संभावना नहीं

दिल्ली। गृहमंत्री अमित शाह का नागरिकता संशोधन अधिनियम वापस लेने से इंकार कर दिया है। कल एक निजी टेलीविजन चैनल से भेंट वार्ता में उन्होंने कहा कि इस कानून को वापस लेने की कोई संभावना नहीं है। श्री अमित शाह ने कहा कि देश के किसी भी नागरिक के साथ कोई अन्‍याय नहीं होगा। अधिनियम को लेकर जारी विरोध पर उन्होंने कहा कि इस कानून का उद्देश्‍य शरणार्थियों को देश की नागरिकता देकर सशक्‍त बनाना है। उन्‍होंने कहा कि शरणार्थियों को नागरिकता देना नेहरू-लियाकत समझौते का हिस्‍सा था, जिसे अब 70 वर्ष बाद प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में लागू किया जा रहा है। गृहमंत्री ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम का चाहे कितना भी विरोध क्‍यों न हो, लेकिन नरेन्‍द्र मोदी सरकार पिछले 70 वर्षों से उत्‍पीड़न झेल रहे शरणार्थियों को नागरिकता और गरिमापूर्ण जीवन देने के लिए प्रतिबद्ध है। गृहमंत्री ने कांग्रेस सहित विपक्षी दलों पर इस मुद्दे को लेकर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया। नागरिकता संशोधन विधेयक पर अलग-अलग विश्वविद्यालयों में हो रहे विरोध प्रदर्शन पर अमित शाह ने कहा कि देश में जो भी विरोध-प्रदर्शन हो रहे ह

रामलीला मैदान पहुंचे लाखों लोग, प्रियंका गांधी का मोदी सरकार के खिलाफ करारा हमला

नई दिल्ली। कांग्रेस की भारत बचाओं रैली में हिस्सा लेने के लिए देश के कोने-कोने से लाखों कांग्रेस कार्यकर्ता रामलीला मैदान पहुंच रहे हैं। प्रियंका गांधी ने रामलीला मैदान की रैली में अपने भाषण की शुरुआत मेरे नेता राहुल गांधी से की। प्रियंका गांधी ने अपने भाषण में मोदी सरकार के खिलाफ करारा हमला बोला है। प्रियंका ने कहा ये देश एक आंदोलन से उभरा है। भाजपा के 6 वर्षो के राज के बाद जीडीपी पाताल पर है। छोटा व्यापारी नाखुश है। बीजेपी है तो 4 करोड़ नौकरियां नष्ट हैं। फिर भी हर बस स्टॉप हर इश्तेहार में मोदी मुमकिन है। गांधी ने कहा कि भाजपा है 100 रुपये प्याज़ मुमकिन है। 4 करोड़ नौकरी नष्ट होना मुमकिन है। 15000 किसानों की आत्महत्या मुमकिन है। भाजपा है जो कानून देश के खिलाफ है मुमकिन है। भाजपा है तो हमारे पीएसयू का बिकना मुमकिन है। प्रियंका ने अपने भाषण में उन्नाव की घटना को याद दिलाया। पीड़ित परिवार का दुखड़ा सुनाया. उन्होंने कहा कि जब मैंने एक छोटी सी बच्ची से पूछा कि बड़ी होकर तुम क्या बनोगी तो पहले तो उसने कुछ नहीं किया लेकिन बाद में उसने कहा कि जो वकील से बड़ा होता है। भारत बचाओ' रैली का मक

भारत बचाओ रैली को ऐतिहासिक बनाने में जुटी कांग्रेस, आर्थिक मंदी-बेरोजगारी के होगें अहम मुद्दे

दिल्ली। कांग्रेस की 'भारत बचाओ' रैली आज रामलीला मैदान में हो रही है। भारत बचाओ' रैली का मकसद बीजेपी सरकार की विभाजनकारी नीतियों को उजागर करना है। पार्टी के शीर्ष नेता रैली को संबोधित कर मोदी सरकार की विफलताओं और देश के नागरिकों को बांटने के कथित प्रयासों को जनता के सामने उजागर करेंगे। बता दें कि भारत बचाओ रैली में हिस्सा लेने के लिए देश के कोने-कोने से लाखों कांग्रेस कार्यकर्ता रामलीला मैदान पहुंच रहे हैं। कांग्रेस पार्टी आर्थिक मंदी, किसान विरोधी नीतियों, महिलाओं के खिलाफ हिंसा, बेरोजगारी और संविधान पर हमले को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ आज दिल्ली के रामलीला मैदान में एक बड़ी रैली कर रही है. इसमें कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री और कार्यकर्ता शामिल हो रहे हैं। सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार जिस नीति के तहत काम कर रही है, उसमें जनता के प्रति जवाबदेही बिल्कुल भी नहीं है।देश की जनता चाहती है कि कांग्रेस पार्टी देश के चहुंमुखी विकास के लिए दे

एससी-एसटी आरक्षण बिल राज्यसभा में पारित, बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस को बताया दलित विरोधी

दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती ने उच्च सदन में बिल पारित करने के दौरान बाधा डालने के लिए कांग्रेस पार्टी को लताड़ लगाई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की ये हरकत दलित विरोधी मानसिकता को दर्शाती है। आपको बता दें कि एससी-एसटी आरक्षण को 10 वर्ष बढ़ाने वाला 126वां संशोधन बिल गुरुवार को राज्यसभा से पास हो गया। साथ ही एंग्लो इंडियन कोटे से होने वाली सांसद की 2 सीटों को भी खत्म करने का प्रावधान है। बता दें कि संविधान के 126वें संशोधन बिल में एससी-एसटी आरक्षण को 10 वर्ष बढ़ाने की व्यवस्था है, जिसके राज्यसभा में पारित होने में कांग्रेस ने बाधा डालने की कोशिश की। हालाँकि सभापति की आग्रह पर वे सदन में वापस आए और तब विलम्ब से यह बिल पास हो पाया। मायावती ने ट्वीट किया, ‘संविधान के 126वें संशोधन बिल में एससी-एसटी आरक्षण को 10 वर्ष बढ़ाने की व्यवस्था है, जिसके राज्यसभा में पारित होने में बाधा डालकर कांग्रेस ने अपनी दलित विरोधी सोच का परिचय दिया है। बता दें कि आरक्षण को आर्टिकल 334 में शामिल किया गया है। बिल में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के आरक्षण को 10 साल तक बढ़ाने का प्रावधान है. एंग्लो-इंडियन

मालवीय नगर - कालीचरण सराफ के किले को ढहा सकते है मात्र पवन गोयल- जाने ख़ास

मालवीय नगर विधानसभा सीट में सेंध मार सकते है मात्र ..................कांग्रेस के पवन गोयल .......जाने ख़ास  जयपुर | आगामी राजस्थान विधानसभा चुनावओं में जयपुर शहर की हॉट सीटों में शामिल है मालवीय नगर सीट - वेसे तो इस सीट पर भाजपा के दिग्गज नेता वर्तमान चिकित्सया मंत्री कालीचरण सराफ विधायक है लेकिन उनके किले को ढहाना मुश्किल लगता है गत विधानसभा चुनावों में भाजपा के वर्तमान विधायक कालीचरण सराफ के सामने कांग्रेस की वर्तमान मीडिया प्रवक्ता अर्चना शर्मा चुनावी मैदान में थी ,जिन्हें बड़े अंतर से भाजपा के विधायक के सामने हार का सामना करना पड़ा था | क्या कहते है मालवीय नगर के समीकरण -   वैसे तो मालवीय नगर सीट शिक्षित वर्ग की है लेकिन चुनावी समीकरण में जातीय पेच मुख्य भूमिका निभाता है कुल मतदाता 2 लाख 12 हजार 151 है इनमें से 1 लाख 9 हजार 705 पुरुष एवं 1 लाख 2 हजार 451महिला मतदाता शामिल है मतदाता सूची में प्रत्येक 1 हजार पुरुषो की तुलना 934 महिला मतदाता है जबकि सर्विस मतदाताओं की संख्या 75 है | क्या कहते है - जातीय समीकरण - मालवीय नगर सीट पर मुख्य दबदबा वैश्य समाज , जैन ,सिन्धी समाज का है जो की मुख्

राजस्थान - भाजपा कर सकती है वापसी - जाने ख़ास रिपोर्ट

तीसरा मोर्चा गठबंधन के बंदर बाट में लगभग तय है - भाजपा की वापसी  जयपुर | राजस्थान विधानसभा चुनावों में अभी एक महीने का वक्त है लेकिन आज https://politico24x7.com की टीम ने   जमीन स्तर और आकड़े जांचे तो चौकाने वाले तथ्य सामने आ रहे है ,जिसके आधार पर भाजपा राजस्थान में वापसी कर सकती है आसानी से - जानें तीसरा गटबंधन मात्र - बातो और मीटिंगों ने - राज्य में भाजपा और कांग्रेस को हराने के लिए ऐसे तो लम्बी राजनेतिक पार्टियों की जम्बो लिस्ट है लेकिन उन सभी पार्टियों में कुछ अहम देखने को मिल रहा ,वैसे तो अभी जयपुर में MI ROAD पर एक निजी होटल में कुछ पार्टियों के मीटिंग हुई है लेकिन सिफ बाते - एकजुट होने के कोई संकेत नहीं मिले | भाजपा ने बदले - 60% से अधिक प्रत्याशी - भाजपा के चाणक्य अमित शाह राजस्थान में मुख्य रूप से सक्रिय है प्रतिदिन की मीटिंग के मीटिंग मिनिट्स तक उन तक पहुँच रही है भाजपा कार्यलय में अभी कुछ समय पहले हुई मीटिंग में अमित शाह ने साफ कह दिया था की जिला अध्यक्षों को टिकट नहीं मिलेगा चाहे तो पार्टी छोड़ सकते है जिसके बाद सभी जिलाध्यक्ष अपने संघटन के कार्य में लग गए वेसे लगभग सभी जिलाध

राफेल डील - सुप्रीम कोर्ट में नई याचिका दाखिल, 10 अक्टूबर को होगी सुनवाई

थम नहीं रहा राफेल डील विवाद - नई दिल्ली । आज सुप्रीम कोर्ट में राफेल डील की याचिका पर सुनवाई टल गई है । राफेल डील के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में डाली गई याचिका पर 10 अक्टूबर को सुनवाई होगी । वकील विनीत ढांडा ने  सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार से पूरी डील की जानकारी मांगने की अपील है। आपको  बतादें वकील विनीत ढांडा ने याचिका दायर की है, याचिका में मांग की गई है कि फ्रांस और भारत के बीच राफेल को लेकर क्या समझौता हुआ है उसे बताया जाए। आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह की याचिका में डील कैंसिल करने की मांग की है । उन्होंने कहा कि126 विमानों की खरीद वाली पुरानी डील को बहाल किया जाए और 36 विमान वाली नई डील रद्द की जाए। गौरतलब है कि, भारत और रुस के साथ 8 ससमझौतो पर डील फाइनल हुई है। इसमें सबसे अहम S- 400 मिसाइल है। इससे भारतीय सेना की शक्ति और मजबूत होगी। गुरुवार को रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन दो दिवसीय भारत दौरे पर थे। इस दौरान दोनों देशों के साथ प्रधानमंत्री मोदी ने अहम समझौते किए। दोनों नेताओं ने सीमा पार आतंकवाद पर भी चर्चा की। सूत्रों ने बताया है कि राष्ट्रपति पुतिन ने पीएम मोद

राजस्थान विधानसभा चुनाव 7 दिसम्बर को , राज्य में लगी आचार संहिता-

जयपुर |  राजस्थान विधानसभा के चुनाव 7 दिसम्बर को होगे  इसके साथ ही मध्यप्रदेश  के 28 नवम्बर व् छतीसगढ़  में 12 व् 20 नवम्बर प्रस्तावित होगे | राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और मिजोरम के साथ-साथ तेलंगाना के लिए भी चुनाव कार्यक्रम का ऐलान  आज हो  गया है , चुनाव आयोग ने आज प्रेस कान्फेंस कर यह जानकारी साझा की ,इसके साथ ही इन राज्यों में अब आदर्श आचार संहिता के अनुसार अब कोई स्थानांतरण पदस्थापन कोई मंत्रिमंडल की बैठक, कोई राजकीय स्वीकृति या किसी भी प्रकार की कोई बैठक कोई सरकारी वाहन का प्रयोग समस्त प्रकार की कार्यवाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।      

किस विधानसभा में कितने वोट - जाने यहाँ , 45 लाख 56 हजार 668 मतदाता करेगें इस बार मतदान -

विधानसभा आम चुनाव - 2018 जयपुर जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों की मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन- जिले में कुल 45 लाख 56 हजार 668 मतदाता पुरुष मतदाताओं की संख्या 23 लाख 95 हजार 746 एवं 21 लाख 60 हजार 922 महिला मतदाता - जयपुर, 28 सितम्बर। जयपुर जिले में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए सभी 19 विधानसभा क्षेत्रों कोटपूतली, विराट नगर, शाहपुरा, चौमूं, फुलेरा, दूदू, झोटवाड़ा, आमेर, जमवारामगढ़, हवामहल, विद्याधर नगर, सिविल लाइन, किषनपोल, आदर्ष नगर, मालवीय नगर, सांगानेर, बगरू, बस्सी एवं चाकसू की मतदाता सूचियों का शुक्रवार (28 सितम्बर, 2018) को अंतिम प्रकाषन कर दिया गया है। जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिद्धार्थ महाजन ने शुक्रवार को जिला कलक्ट्रेट सभागार में मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए बताया कि जिले में मतदाता सूची के अंतिम प्रकाषन में कुल 45 लाख 56 हजार 668 मतदाता हैं, इनमें से 23 लाख 95 हजार 746 पुरुष एवं 21 लाख 60 हजार 922 महिला मतदाता शामिल है। उन्होंने बताया कि जिले की सम्पूर्ण मतदाता सूची में प्रत्येक एक हजार पुरुषों की तुलना में 902 महिला मतदाता हैं। जिले में सर्विस मतदाताओं क

कांग्रेस - पत्रकारो और वकीलों को रिझाने की कोशिश

जयपुर | कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलेट ने  केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है की आज देश में भय और असुरक्षा का माहौल है सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने प्रेस कान्फेंस करके यह बताया की आज देश में लोकतान्त्रिक संस्थाओं पर किस तरह दबाव् बनाया जा रहा है | आज लोग भावनाओं का इजहार करने से भी डर रहे है | आज मोदी सरकार में विरोधियों को डराने धमकाने का जो सिलसिला चल रहा है ,आज ऐसे लोग सत्ता  में है जो हर कीमत पर अपनी जिद्द पूरी करना चाहते है | देश की आधी आबादी गरीब है ,उन गरीब लोगो पर प्रभाव बनाकर खुद को शक्तिशाली  बताना बेमानी है | जयपुर में आयोजित कांग्रेस के विधि विभाग की और से बिरला आडिटोरियम में आयोजित संविधान बचाओं देश बचाओं में बोल रहे थे | कांग्रेस विवेक तन्खा ने प्रदेश कांग्रेस से मांग की है की वकील सुरक्षा कानून और पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने का वादा घोषणा पत्र में किया जाए , कांग्रेस के अनुसार कुछ समय में पत्रकार और वकील समुदाय कांग्रेस पार्टी से दूर हुवे है जिसका बड़ा नुकसान कांग्रेस को उतना पड़ रहा है |

लोकतांत्रिक व्यवस्था को खतरे में डाल रही है कांग्रेस : तोमर

भोपाल। केंद्रीय पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज विपक्षी दल कांग्रेस पर जमकर हमला बोला कहा- वह लगातार चुनावी पराजयों से खीजकर लोकतांत्रिक व्यवस्था को भी खतरे में डाल रही है। नरेंद्र सिंह तोमर के यहां स्थित कार्यालय से जारी बयान में उन्होंने कहा कि देश पर लम्भे समय तक राज करने वाली कांग्रेस इस काफी नाराज है। वह लगातार पराजयों के कारण वह परेशान हो गई है। और संवैधानिक संस्थाओं पर भी हमलों से नहीं चूक रही है। यही वजह है कि कांग्रेस उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के खिलाफ महाभियोग का प्रस्ताव लायी और अब कर्नाटक राज्य में उत्तर दक्षिण जैसे मुद्दे उछाले जा रहे हैं, जो देश के लिए खतरनाक संकेत हैं। तोमर ने कहा कि कभी भगवा आतंकवाद का शब्द गढ़ने वाले कांग्रेस के नेता अब कह रहे हैं कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता है। जबकि विकीलीक्स के जो दस्तावेज सामने आए थे, उसमें भी कांग्रेस नेता राहुल गांधी और अमरीकी राजदूत के बीच चर्चा के अंश थे। इसमें हिंदू आतंकवाद का जिक्र था। वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस नेताओं ने शिवभक्त लिंगायतों को हिंद

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने की 11 उम्मीदवारों की आखरी सूची जारी

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए अपने 11 उम्मीदवारों की आखरी लिस्ट जारी की। पार्टी की केन्द्रीय चुनाव समिति द्वारा जारी की गई सूची में 11 उम्मीदवारों के नाम हैं। इनमें मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को बादामी सीट से भी उम्मीदवार बनाया गया है। वे डॉ देवराज पाटिल की जगह उम्मीदवार बनाए गए हैं। गौरतलब है कि वे इस चुनाव में दो सीटों से लड़ रहे हैं। इस चुनाव में 2 सीटों से लड़ रहे हैं। पार्टी महासचिव मुकुल वासनिक ने रविवार को यहां सूची जारी करते हुए बताया कि केपी चन्द्रकला को एच एस चंद्र मौली की जगह मदिकेरी से, एम श्रीनिवास को गुरप्पा नायडू की जगह पद्मनाभ नगर से, के एस रेणु को एम आर सीताराम की जगह मल्लेश्वरम से, के सदाक्षारी को बी नन्ज्मारी की जगह तिप्तुर से तथा एच पी राजेश को ए एल पुष्प की जगह जगलुर सुरक्षित सीट से उम्मीदवार बनाया गया है। इसके अलावा डॉ बी इनामदार को कित्तूर से, विठ्ठल धोंधिबा कटक धोंध को नाग्थान सुरक्षित सीट से, एम एन साली को सिंदगी से, सईद यासीन को रायचूर से एवं एन ए हरीश को शांति नगर से उम्मीदवार बनाया गया है।

गजेन्द्र सिंह शेखावत बन सकते है भाजपा के नए प्रदेशाध्यक्ष !

राजस्थान के भाजपा अध्यक्ष पद से अशोक परनामी के इस्तीफे के बाद नए अध्यक्ष को लेकर चर्चाएं तेज हो गई थी। सूत्र बताते हैं कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राजस्थान में बीजेपी की कमान गजेन्द्र सिंह शेखावत को सौंपने का फैसला कर सकती है। शेखावत जोधपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से 16वीं लोकसभा में भाजपा सांसद हैं और केंद्र में नवनियुक्त राज्य कृषि मंत्री हैं। शेखावत को प्रदेशाध्यक्ष बनाए जाने की अधिकारिक घोषणा से पहले ही भाजपा के कई विधायक और नेताओं ने उन्हें बधाई देने का सिलसिला शुरू कर दिया। फेसबुक और व्हाट्सअप पर बधाई वाले मैसेज खूब वायरल हो रहे हैं।

राहुल गांधी पहले अमेठी की चिंता कर लेंः BJP

नई दिल्ली। वाराणसी से वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हारने की भविष्यवाणी संबंधी राहुल गांधी की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए भाजपा ने आज कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष को अमेठी की चिंता कर लेनी चाहिए और पहले वे वहां हमारी वरिष्ठ नेता स्मृति ईरानी का मुकाबला करके तो दिखायें। भाजपा ने दलितों के मुद्दे पर राहुल गांधी के उपवास को ‘मीडिया इवेंट’ करार दिया । पार्टी ने दावा किया कि भाजपा के दलित सांसदों में कोई असंतोष नहीं है ।   भाजपा के वरिष्ठ राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा, राहुल गांधी पहले अमेठी की चिंता कर लें। पहले वह हमारी वरिष्ठ नेता स्मृति ईरानी से मुकाबला करके तो दिखायें, फिर प्रधानमंत्री की बात करें। और अगर फिर भी चाहें, तो वाराणसी से ही चुनाव लड़ लें। उन्होंने कहा कि जितने दल चाहें एकत्र हो लें, देश की जनता मोदीजी के साथ है। लोगों का आर्शीवाद मोदीजी को प्राप्त है । उल्लेखनीय है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को कहा था कि एकजुट विपक्ष के आगे 2019 जीतना तो दूर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद अपनी वाराणसी सीट भी गंवा देंगे। विपक्षी एकता में

समुदाय को लेकर अलवर विधायक का बयान से हुई राजनीति गर्म

अलवर। राज्य के अलवर शहर से विधायक बनवारी लाल सिंघल एक समुदाय विशेष को लेकर अपने दिए बयान से विवादों में घिरते नजर आ रहें है। बनवारी के इस बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। उनके बयान को लेकर जहां राजनीति गर्म हो गई है तो वहीं उनके बयान से पार्टी हक्क बक्क है। मीडिया रिपोर्ट्स और सोशल मीडिया पर वायरल विडियों के अनुसार एक कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए विधायक बनवारी लाल ने कहा कि समुदाय विशेष के लोग अपराध में लिप्त हैं। जिस वजह से मैं उनसे वोट नहीं मांगता और न मुझे उनके वोट की जरूरत है। उन्होंने कहा कि वैसे भी समुदाय विशेष के लोग बीजेपी को वोट नहीं देते। बनवारी का कहना है कि मैं उनसे वोट मांगूगा तो वे अपराध में मुझसे मदद मांगने आ जाएंगे। इतना ही नहीं भाजपा विधायक ने अपने इस बयान में पुलिस को भी नहीं छोड़ा। विधायक ने कहा कि कहीं न कहीं पुलिस भी समुदाय विशेष की मदद करती है। इस बार विधायक जी लव जिहाद के बारे में भी अपनी टिप्पणी करने से नहीं चूके। विधायक ने समुदाय विशेष पर आरोप लगाते हुए कहा उनके युवक फेक आईडी बना हिंदू लड़किय़ों को अपने जाल में फंसाते हैं। और इसके

राजस्थान के पूर्व CM अशोक गहलोत को पार्टी ने दी नई जिम्मेदारी

जयपुर। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक नई जिम्मेदारी सौंपी है। कांगे्रस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अशोक गहलोत को सोमवार को केंद्रीय चुनाव समिति का सदस्य बनाया है। पार्टी की केन्द्रीय चुनाव समिति में सिर्फ अशोक गहलोत का नाम जोड़ा गया है जबकि इसके अन्य पुराने सदस्य अभी भी समिति के सदस्यों के रूप में बरकार रखा गया है। 12 सदस्यीय इस समिति में गहलोत के शामिल होने को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं कि इसके पिछे राजस्थान में होने वाले आगामी चुनावों में कांग्रेस को फायदा भी हो सकता है। आपको बता दें कि अभी राजस्थान में आगामी चुनावों को लेकर सरगर्मी शुरू हो गई है और टिकटों को देने के लिए इसी समिति द्वारा फैसला लिया जाना है। उल्लेखनीय है कि अभी कुछ समय पहले अशोक गहलोत को संगठन का प्रभारी भी बनाया गया था। वहीं मीडिया खबरों के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अध्यक्षता वाली इस समिति के सदस्य के रूप में गहलोत की नियुक्ति तत्काल प्रभाव से प्रभावी होगी।आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी का पूरा ध्यान अभी कर्नाटक विधानसभा चुनावों पर हैं। कर्नाटक में 12 मई को मतद

हार्दिक किसी भी राष्ट्रीय पार्टी की ग्रहण नहीं करेगें सदस्यता

उज्जैन। गुजरात के पाटीदार एवं किसान आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने कहा है कि वे किसी भी राष्ट्रीय पार्टी की सदस्यता ग्रहण नहीं करेगें। वह उनके आंदोलन में सहयोग करने वाली पार्टी का साथ देंगे। पटेल मध्यप्रदेश के अपने 2 दिवसीय दौरे पर अपने निर्धारित समय से लगभग दो घंटे देरी से यहां पहुंचे।उन्होंने यहां एक होटल में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि वह अभी अलग अलग क्षेत्रों का दौरा कर अनुभव ले रहे हैं। किसान के साथ जनता की समस्यायें सुन रहें है और समस्याओं के समाधान के लिए आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो पार्टी के नेता उनसे सम्पर्क करते हैं, वह उनके साथ हैं।   लेकिन जब तक किसानों और जनता की समस्याओं का समाधान नहीं निकलता, तब तक वह किसी भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण नहीं करेगें। एक प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राहुल गांधी ने उनसे सम्पर्क किया। इसलिए वे उनका सहयोग कर रहे है, लेकिन बीजेपी के नाम लिए बगैर कहा कि इस पार्टी ने उनसे सम्पर्क नहीं किया है।मध्यप्रदेश के होने वालें विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का समर्थन करने के प्रश्न के उत्तर में कहा कि ज्योतिदित्य सिंधिया