Skip to main content

Posts

Showing posts with the label c m raje

राजस्थान मालपुरा में "गोधरा कांड" जैसी घटना - क्षेत्र में तनाव

मालपुरा - कांवड़ियों पर समुदाय विशेष द्वारा हमला - आखिर क्यों टोंक | मालपुरा में कावड़ यात्रिओं पर समुदाय विशेष द्वारा एका -एक हुए हमले ने जो हिंसक रूप लिया है वह आज हमे विचलित करने वाला है , आखिर क्यों कांवडियो पर समुदाय विशेष के लोगों ने हमला किया - यह प्रश्न जांच का विषय है | [caption id="attachment_8027" align="alignright" width="373"] कावड़ियों से मारपीट[/caption] क्या है पूरा मामला -  23 अगस्त को कांवड़ यात्रा निकल रही थी जैसे ही यात्रा एक मज्ज्दि के सामने से निकली तो समुदाय विशेष के लोगो द्वारा यात्रिओं पर लाठी - सरियो से हमाल किया जिसमे 16 लोग घायल होगये , जिसके बाद माहौल ख़राब हो गया भीड़ ने आगजनी की घटना की | आखिर यह घटना क्या दर्शाती है - गोरतलब है की गुजरात में भी गोधरा काण्ड कुछ इस ही तरह की घटना द्वारा होवा था तब राज्य के मुख्यमंत्री वर्तमान प्रधानमंत्री मोदी थे , उस वक्त की घटना बाद राज्य में हिन्दू -मुस्लिमो में दंगे हो गए थे , जिसका परिणाम घातक था जो सबके सामने था , आज उसी घटना क्रम में मालपुरा खड़ा है | धारा 144 - मालपुरा में धटना के बाद स्थिति

राजस्थान: BJP के रामस्वरूप लांबा और कांग्रेस के रघु शर्मा के बीच होगा कड़ा मुकाबला - सूत्र

अजमेर। अजमेर संसदीय क्षेत्र के उप चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के रामस्वरूप लांबा और कांग्रेस के डॉ. रघु शर्मा के बीच ही मुकाबला होने के आसार हैं। हालांकि दोनों ही दलों ने अभी अपने अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की है। भाजपा प्रदेश इकाई पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत सांवर लाल जाट के पुत्र ररामस्वरूप लांबा का इकलौता नाम केंद्रीय संसदीय बोर्ड को भेज चुकी है, वहीं कांग्रेस में भी कमोबेश डॉ. रघु शर्मा के नाम पर सहमति बन जाने की चर्चा है।   अजमेर लोकसभा उपचुनाव के लिए बुधवार से नामांकन शुरू हो गए लेकिन अब तक कांग्रेस ने प्रत्याशी को लेकर अधिकृत रूप से घोषणा नहीं की है। वहीं पूर्व मुख्य सचेतक व केकड़ी से पूर्व विधायक डॉ रघु शर्मा के नाम पर सहमति बनने की चर्चाएं बुधवार को भी बनी रही। यह भी चर्चा रही शर्मा के नजदीकी कुछ कार्यकर्ता चुनाव कार्यालय के लिए श्रीनगर रोड पर मकान तलाश रहे हैं। बताया जाता है कि एक भवन को लेकर नगर निगम से यह भी पड़ताल की गई है कि इसका यूडी टैक्स या अन्य कोई कर तो बकाया नहीं है। चुनाव कार्यालय को लेकर बाद में किसी तरह का विवाद नहीं हो, इसलिए पहले ही जांच पड़ताल की जा रह

प्रधानमंत्री मोदी राजस्थान में संभाल सकते है चुनावी कमान - आखिर क्यों

प्रधानमंत्री मोदी अब राजस्थान विधानसभा के लिए चुनावी कमान संभाल सकते है सूत्रों के अनुसार गुजरात चुनाव में जिस तरह से अंतिम समय में प्रधानमंत्री मोदी जी ने कमान सम्भाली थी जिसके कारण गुजरात्त में बीजेपी वापस सत्ता पर काबिज हो पाई है उसी तरह से मोदी जी राजस्थान में चुनावी सभा कर कार्यकर्ताओं को विश्वास में ले सकते है | ज्ञात हो -  मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और शीर्ष आलाकमान में कुछ मतभेद है लेकिन राजस्थान में मुख्यमंत्री राजे के नेतृत्व में राजस्थान कि जनता ने बीजेपी को पूर्ण बहुमत दे रखा है जिसके कारण निगम सरकार से लेकर विधायक और सांसद सभी भाजपा के है और श्रीमती राजे इसका पूरा फायदा उठा रही है एक तरह से कहा जाये तो सी .एम् राजे के आगे आला कमान बेबस है अब इसे सी एम् राजे का करिश्माई नेतृत्व कहे जा मोदी मेजिक लेकिन राजस्थान में भाजपा पूर्ण बहुमत से है |  जिस तरह से गुजरात में पाटीदार आन्दोलन में मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल को इस्तीफा देना पड़ा था ,उसी प्रकार मुख्यमंत्री राजे पर ललित कांड को लेकर घमासान पार्टी के अन्दर और बाहर चला था किन्तु भाजपा आलाकमान मुख्यमंत्री राजे का इस्तीफा नही ले पाई

अन्य राज्यों से ब्याह कर आई लड़कियों के जाति प्रमाण-पत्र में परेशानी न हो: मुख्यमंत्री

10  नवम्बर , 2017 |  जयपुर मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने निर्देश दिए हैं कि अन्य राज्यों से राजस्थान में शादी कर आई विवाहित लड़कियों के जाति प्रमाण-पत्र बनाने में कोई कठिनाई नहीं आनी चाहिए। उन्होंने संभागीय आयुक्त राजेश्वर सिंह एवं प्रभारी सचिव अखिल अरोड़ा को इस संबंध में मुख्य सचिव के साथ बैठक कर इसका नियमानुसार हल निकालने के निर्देश दिए। यहाँ उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री के सामने हरियाणा एवं अन्य राज्यों से राजस्थान खासकर अलवर ब्याह कर लाई गई विवाहित लड़कियों के जाति प्रमाण-पत्र नहीं बनाए जाने की समस्या आई तो उन्होंने इसे गंभीरता से लिया और अधिकारियों को निर्देश दिए। श्रीमती राजे गुरुवार को अलवर ज़िले के बहरोड़ विधान सभा क्षेत्र के जनसंवाद कार्यक्रम में बोल रही थीं। आमजन की अपेक्षाएं जानने के लिए शुरू किया जनसंवाद मुख्यमंत्री ने कहा कि आमजन मुख्यमंत्री को सीधे संवाद के माध्यम से अपनी समस्या बता सके, इसके लिए जनसंवाद कार्यक्रम शुरू किया गया। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से हर वर्ग की समस्याओं को जानने और उनका निराकरण करने का मौका मिलता है। सीधे संवाद में हमें विकास की ज़मीनी हकीकत क

पुष्कर में विकास कार्याें का लोकार्पण -

   125 मंदिरों और 30 स्मारकों का होगा 551 करोड़ से विकास - मुख्यमंत्री  मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि हमारी सरकार ने प्रदेश के मंदिरों और स्मारकों के विकास के लिए 551 करोड़ रुपये की योजना बनायी है। इसके तहत 125 मंदिरों और 30 लोकदेवताओं व महापुरूषों के स्मारकों का विकास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के धार्मिक पर्यटन को मजबूत करना उनकी सरकार का लक्ष्य है। वे मंगलवार को पुष्कर में 24 करोड़ रुपये की लागत से ब्रह्मा मंदिर विकास परियोजना के भूमि पूजन तथा सावित्री माता मंदिर में 4.9 करोड़ रुपये से हुए विकास कार्यों के लोकार्पण के बाद विशाल जनसभा को सम्बोधित कर रही थीं।    अजमेर को हवाई यात्रा की सौगात-  मुख्यमंत्री ने कहा कि सिर्फ पत्थर पर नाम लिखकर छोड़ देना हमारी आदत नहीं। जो काम हम शुरू करते हैं, उसे पूरा भी करते हैं। उन्होंने कहा कि किशनगढ़ एयरपोर्ट निर्माण की योजना भी हमारी ही पिछली सरकार के समय की थी लेकिन बाद में पूर्ववर्ती सरकार ने इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया। पूर्ववर्ती सरकार ने जाते-जाते सितम्बर 2013 में इसका शिलान्यास कर दिया लेकिन काम कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा