Skip to main content

Posts

Showing posts with the label business news

Unravelling The Secret Behind Becoming A Successful Entrepreneur -

 Trying to establish a brand, adjust to match or exceed the competition and keep your business profitable is a challenge no matter how many years you’ve been in business. The key is to learn from those who have been there, done that and done that successfully  Bengaluru, India - As an entrepreneur are you truly building your business or just firefighting? As a business owner- do you feel stuck- No matter what you do you are not able to scale the business? Remember, you are not alone. Entrepreneurship comes with a host of challenges. Rewarding challenges, but harsh challenges, nonetheless. Experienced entrepreneurs must deal with this no matter how long they’ve been in business. Trying to establish a brand, adjust to match or exceed the competition and keep your business profitable is a challenge no matter how many years you’ve been in business. But for new and young entrepreneurs, there are some unique challenges that are especially difficult to overcome. The challenge with most entrep

Amazon ने लॉन्च किया लाइट इंटरनेट वेब ब्राउजर

टेक डेस्क। एमेजॉन ने भारत में एंड्रोयड उपकरणों के लिए 'इंटरनेट' नाम से वेब ब्राउजर पेश कर दिया है। इस एप को खासतौर से डिवाइसेज पर कम स्पेस कंज्यूम करने के लिए बनाया गया है। कंपनी ने दावा किया है कि यह ब्राउजर किसी अन्य ब्राउजर जैसे निजी डेटा का संग्रहण नहीं करता है। मार्च से ही गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध इस ब्राउजर को अब तक 100 से अधिक बार इंस्टॉल किया जा चुका है। एप गूगल प्ले स्टोर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। यह एंड्रॉयड 5.0 मार्शमैलौ या उससे अधिक की डिवाइसेज पर कार्य करेगा। अमेजन इंटरनेट ब्राउजर की खासियतें अमेजन ने भारतीय मोबाइल यूजर्स के लिए अपना एक खास इंटरनेट वेब ब्राउजर लॉन्च किया है। इस ब्राउजर का नाम ही है Internet, यानि जो इस्तेमाल में बहुत हल्का और फास्ट है। साथ ही इस ब्राउजर पर आप प्राइवेट ब्राउजिंग भी बहुत आसानी से कर सकेंगे। अमेजन की ओर से दावा किया गया है कि यह ब्राउजर न सिर्फ इस्‍तेमाल में बहुत हल्का और फास्ट है बल्कि स्लो इंटरनेट स्पीड में भी उम्मीद से बेहतर काम करता है। साथ ही इसकी अपडेट फाइलें भी काफी हल्की होंगी, जिससे यूजर के डाटा पैक पर लोड नहीं पड़ता। प्राइ

सरकार ने बिल्डरों को दिया निर्देश, किफायती मकान खरीदने वालों से नहीं वसूलें GST

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने बिल्डरों से किफायती मकान खरीदने वाले लोगों से GST न वसूलने को कहा गया है। सरकार के मुताबिक, सभी सस्ती आवासीय परियोजनाओं पर प्रभावी जीएसटी दर 8% है, जिसे ‘इनपुट क्रेडिट’ के माध्यम से अजस्ट किया जा सकता है। केंद्र ने कहा कि, बिल्डर अफोर्डेबल हाउसिंग प्रॉजेक्ट के तहत घर खरीदने वालों से GST तभी वसूल कर सकते है, जब वह अपार्टमेंट की कीमतें कम कर दें। सरकार ने बताया है कि अगर बिल्डर कच्चे माल पर क्रेडिट के दावे को शामिल करने के बाद मकान का दाम घटाते हैं, तभी वे सस्ती आवासीय परियोजनाओं के तहत फ्लैट खरीदने वालों से माल एवं सेवा कर वसूल सकते हैं। GST परिषद ने 18 जनवरी को अपनी अंतिम बैठक में CLSS के तहत मकानों के निर्माण के लिये रियायती दर से 12 प्रतिशत GST लगाने की बात बताई। इसका मकसद सस्ते मकान को बढ़ावा देना है जिसे 2017-18 के बजट में बुनियादी ढांचा का दर्जा दिया गया है।