Skip to main content

Posts

Showing posts with the label bsp

राजस्थान - भाजपा कर सकती है वापसी - जाने ख़ास रिपोर्ट

तीसरा मोर्चा गठबंधन के बंदर बाट में लगभग तय है - भाजपा की वापसी  जयपुर | राजस्थान विधानसभा चुनावों में अभी एक महीने का वक्त है लेकिन आज https://politico24x7.com की टीम ने   जमीन स्तर और आकड़े जांचे तो चौकाने वाले तथ्य सामने आ रहे है ,जिसके आधार पर भाजपा राजस्थान में वापसी कर सकती है आसानी से - जानें तीसरा गटबंधन मात्र - बातो और मीटिंगों ने - राज्य में भाजपा और कांग्रेस को हराने के लिए ऐसे तो लम्बी राजनेतिक पार्टियों की जम्बो लिस्ट है लेकिन उन सभी पार्टियों में कुछ अहम देखने को मिल रहा ,वैसे तो अभी जयपुर में MI ROAD पर एक निजी होटल में कुछ पार्टियों के मीटिंग हुई है लेकिन सिफ बाते - एकजुट होने के कोई संकेत नहीं मिले | भाजपा ने बदले - 60% से अधिक प्रत्याशी - भाजपा के चाणक्य अमित शाह राजस्थान में मुख्य रूप से सक्रिय है प्रतिदिन की मीटिंग के मीटिंग मिनिट्स तक उन तक पहुँच रही है भाजपा कार्यलय में अभी कुछ समय पहले हुई मीटिंग में अमित शाह ने साफ कह दिया था की जिला अध्यक्षों को टिकट नहीं मिलेगा चाहे तो पार्टी छोड़ सकते है जिसके बाद सभी जिलाध्यक्ष अपने संघटन के कार्य में लग गए वेसे लगभग सभी जिलाध

BSP में मुकेश मेघवंशी को मिली बड़ी जिम्मेदारी , जयपुर लोकसभा का प्रभारी नियुक्त

जयपुर | बसपा पार्टी ने आज राजस्थान में मुकेश मेघवंशी को बड़ी ज़िम्मेदार दी है बसपा के राजस्थान प्रभारी मुनकाद अली राज्यसभा सांसद एवं प्रदेश प्रभारी सुरेश आर्य ने पार्टी के युवा चेहरे मुकेश मेघवंशी को [caption id="attachment_8443" align="alignright" width="226"]    mukesh meghwanshi[/caption] किया है | राजस्थान की नब्ज़ से वाकिफ है - मुकेश मेघवंशी गौरतलब है मुकेश मेघवंशी बसपा के कर्मठ कार्यकर्ताओं में से एक है और उन्हें राजस्थान की राजनीती , जातीय समीकरण , राजस्थान के सभी जिलों की वास्तविक वर्तमान राजनीती स्थिति का अच्छे से ज्ञान है , आगामी राजस्थान चुनावों में उनकी सक्रिय भूमिका रहने वाली है जिसका सीधा लाभ बसपा को मिल सकता है | बसपा का बढ़ा है वोट बैंक - गौरतलब है मुकेश मेधवंशी लम्बे समय से बसपा में सक्रिय कार्यकर्ता रहे है कार्यकर्ता रहते उन्होंने जमीनी स्तर पर काम किया है और अब विधानसभा चुनाव में लोकसभा प्रभारी की जिम्मेदारी बसपा का वोट बैंक बढ़ा सकती है इससे पहले 2 अप्रैल का भारत बंद , व् sc /st act के बाद राजस्थान में दलित .मुस्लिम व् अन्य पिछड़ा वर्ग के ल

राजस्थान विधानसभा चुनाव 7 दिसम्बर को , राज्य में लगी आचार संहिता-

जयपुर |  राजस्थान विधानसभा के चुनाव 7 दिसम्बर को होगे  इसके साथ ही मध्यप्रदेश  के 28 नवम्बर व् छतीसगढ़  में 12 व् 20 नवम्बर प्रस्तावित होगे | राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और मिजोरम के साथ-साथ तेलंगाना के लिए भी चुनाव कार्यक्रम का ऐलान  आज हो  गया है , चुनाव आयोग ने आज प्रेस कान्फेंस कर यह जानकारी साझा की ,इसके साथ ही इन राज्यों में अब आदर्श आचार संहिता के अनुसार अब कोई स्थानांतरण पदस्थापन कोई मंत्रिमंडल की बैठक, कोई राजकीय स्वीकृति या किसी भी प्रकार की कोई बैठक कोई सरकारी वाहन का प्रयोग समस्त प्रकार की कार्यवाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।      

किस विधानसभा में कितने वोट - जाने यहाँ , 45 लाख 56 हजार 668 मतदाता करेगें इस बार मतदान -

विधानसभा आम चुनाव - 2018 जयपुर जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों की मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन- जिले में कुल 45 लाख 56 हजार 668 मतदाता पुरुष मतदाताओं की संख्या 23 लाख 95 हजार 746 एवं 21 लाख 60 हजार 922 महिला मतदाता - जयपुर, 28 सितम्बर। जयपुर जिले में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए सभी 19 विधानसभा क्षेत्रों कोटपूतली, विराट नगर, शाहपुरा, चौमूं, फुलेरा, दूदू, झोटवाड़ा, आमेर, जमवारामगढ़, हवामहल, विद्याधर नगर, सिविल लाइन, किषनपोल, आदर्ष नगर, मालवीय नगर, सांगानेर, बगरू, बस्सी एवं चाकसू की मतदाता सूचियों का शुक्रवार (28 सितम्बर, 2018) को अंतिम प्रकाषन कर दिया गया है। जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिद्धार्थ महाजन ने शुक्रवार को जिला कलक्ट्रेट सभागार में मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए बताया कि जिले में मतदाता सूची के अंतिम प्रकाषन में कुल 45 लाख 56 हजार 668 मतदाता हैं, इनमें से 23 लाख 95 हजार 746 पुरुष एवं 21 लाख 60 हजार 922 महिला मतदाता शामिल है। उन्होंने बताया कि जिले की सम्पूर्ण मतदाता सूची में प्रत्येक एक हजार पुरुषों की तुलना में 902 महिला मतदाता हैं। जिले में सर्विस मतदाताओं क

बसपा सुप्रीमो ने किया - जय प्रकाश को आउट

बसपा सुप्रीमो ने आज पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया ,जेपी को पार्टी से निकालते हुए मायावती ने कहा कि उन्होंने न सिर्फ पार्टी की विचारधारा के खिलाफ बयानबाजी की, बल्कि विरोधी पार्टी के नेताओं पर व्यक्तिगत टिप्पणियां भी कीं जो की गलत है | क्या मोहरा बने है  - जय प्रकाश को कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गाँधी के खिलाफ बयान बाजी करना महंगा पड़ा है क्योकि जेपी ने राहुल गाँधी के विदेशी अर्थात सोनिया गांधी के जैसा होना बताया उन्होंने कहा की अगर राहुल गाँधी अपने पिता राजीव गाँधी नक्शे कदम पर चलते तो शायद राजनीती में कामयाब हो जाते , लेकिन राहुल गाँधी उनकी माँ सोनिया पर गए है इसलिए वह कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते | जबकि वर्तमान में बसपा और कांग्रेस में राजस्थान ,छतीसगढ़  में गठबंधन की संभावना है | अ ति -उत्साहित -  हाली में लखनऊ में 16 जुलाई को बसपा के सीनियर कार्यकर्ताओं की मीटिंग थी ,जिसमे जय प्रकाश काफी उत्साहित नज़र आ रहे थे अपने भाषणों में मायावती को 2019 का प्रधानमंत्री का दावेदार बताया साथ ही विरोधियों पर जमकर बरसे थे साथ ही मायावती को साक्षा

बसपा सुप्रीमो का जन्म दिवस होगा - जनकल्याणकारी दिवस , शहर में होगे कई कार्यक्रम -

जयपुर | बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्म दिवस आगामी  15 जनवरी 2018  को " बसपा कार्यकर्त्ता जनकल्याणकारी  दिवस के रूप में बनायेगे | बसपा सुप्रीमो मायावती के जन्म दिवस { 15 जनवरी 2018 } को है | इस को लेकर प्रदेश कार्यलय पर आज कार्यकर्त्ता ओं की बैठक आयोजित की गई , जिसमे आगामी 15 जनवरी को बसपा सुप्रीमो के जन्म दिवस को जनकल्याणकारी  दिवस के रूप में बनाया जाने का निर्णय लिया गया | राज्य में होगे कई कार्यक्रम - बसपा के बैनर के तले राज्य में गरीब लोगो की सहायता के लिए शिविर लगाया जाएगा जिसमे गरीब लोगो को मेडिकल सेवा , गर्म कपडे आदी वितरित किये जायेगे | मीटिंग में मुख्य अतिथि के रूप में मुख्य प्रदेश प्रभारी व पूर्व मंत्री यूपी, एमएलसी मा. धर्मबीर सिंह अशोक जी ने कहा - लम्बे समय से राज्य में भाजपा और कांग्रेस विकास के नाम पर जनता से छल कर रही है अब राजस्थान की जनता इन भ्रष्ट लोगो के जुमलो से त्रस्त हो चुकी है राज्य की जनता बदलाव चाहती है | बसपा इस बार राजस्थान में पूर्ण बहुमत से सरकार बना रही है और समाज के दबे -कुचले ,मजदूर वर्ग के लोगो को प्रतम मानते हुवे उन के विकास के लिए प्रतिबद्ध है |

मोदी सरकार बदल सकती है "भारतीय संविधान" -

जयपुर | बसपा पार्टी द्वारा "पूना पैक्ट धिक्कार दिवस " बनाया गया जिसके मुख्य वक्ता धर्मवीर सिंह अशोक जी रहे | मुख्य वक्ता धर्मवीर सिंह जी ने डॉ बी.आर आंबेडकर और काशीराम जी को पुष्प अर्पित कर "पूना पैक्ट" पर गहन चर्चा की | धर्मवीर जी ने कहा आज समाज को इतिहास और  पूना पैक्ट जानन बहुत जरुरी है ताकि बहुजन समाज को  पता लग सके की - सामाजिक ,आर्थिक .राजनेतिक स्तर पर  आज जो वह जो सम्मान पा रहा  है ,उसके  लिए  बाबा साहब आंबेडकर ने   कितना संघर्ष किया था | गाँधी अछूत ओं के मसीहा बनते थे लेकिन उन्होंने किस तरह से समाज के गरीब ,शोषित ,दलित वर्ग के लोगो के साथ छल -कपट किया , गांधी जी  दलितों को दोहरे मतदान के विरोध में रहे | बाबा साहब ने संविधान के माध्यम से सभी लोगो को सामाजिक जीवन ,और समानता का अधिकार दिया आज बीजेपी और आरएसएस जैसे संघटन सत्ता पाने के लिए दलितों को लालच , झूटे  आश्वासन दे कर वोट बैंक  की राजनिति कर रहे है आज बीजेपी सरकार में बाबा साहब द्वारा लिखित "भारतीय संविधान" को बदलने का पूरा प्रयास किया जा रहा है | आज दलित ,शोषित वर्ग राजस्थान में अपने को ठगा सा

मुझे कुछ हुआ तो BJP जिम्मेदार - मायावती

 यूपी | सहारनुपर में हुई जातीय हिंसा के लिए बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने यूपी की योगी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। वह मंगलवार सुबह दिल्ली से सहारनपुर के लिए हेलिकॉप्टर से रवाना होने वाली थीं लेकिन स्थानीय प्रशासन से इजाजत न मिलने पर वह सड़क मार्ग से सहारनपुर पहुंचेंगी। मायावती ने कहा, 'अगर मुझे कुछ होता है तो बीजेपी सरकार उसके लिए जिम्मेदार होगी क्योंकि मैं हेलिकॉप्टर से जाना चाहती थी लेकिन रोड से जाने के लिए मजबूर हूं।' उन्होंने कहा कि पार्टी के नेताओं ने सहारनपुर के डीएम और एसएसपी से मिल हेलिपैड की परमिशन मांगी थी लेकिन वह ठुकरा दी गई। मायावती ने कहा, 'मेरे सहारनपुर पहुंचने और वहां से वापस आने तक की जिम्मेदारी सरकार की है।'

कांशीराम को जिंदा कर दिया सामाजिक कार्यकर्ता कपिल प्रेम ने-

        कांशीराम............ मान्यवर दीनाभाना ने जब मान्यवर कांशीराम को यशकायी डीके खापर्डे से मिलवाया तो उन्होनें मा. कांशीराम साहब को बाबा साहब की पुस्तक एनिहिलेशन आफ कास्ट पढने के लिए दिया। मा. कांशीराम ने बाबा साहब की पुस्तक एनिहिलेशन आफ कास्ट को तीन बार पढा और आन्दोलित हो गये। यहां से मा. कांशीराम का जीवन और उनका उद्देश्य पूर्णत: बदल गया एवं यहीं से मा. कांशीराम के जीवन में एक नयी स्फुर्ति आयी और उन्होंने मा. डीके खापर्डे, मा. दीनाभाना एवं अन्य साथियों के मिलाकर भारत में बहुजन आन्दोलन की शुरूआत की। मा. कांशीराम ने बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के आ न्दोलन का गहन अध्ययन किया तो इन्होंने देखा कि बाबा साहब के परिनिर्वाण के बाद उनका कारवां रूक गया है। इसलिए जहां-जहां से कारवां रुका था वहां-वहां से पुनः हमें आंदोलन रिस्टार्ट करना पडेगा। इसके बाद वे जी जान से इसे दोबारा से शुरू करने में जुट गए।   पूना पैक्ट का धिक्कार:- मा. कांशीराम इस नतीजे पर पहुंचे कि अछूतों को मिलने वाले पृथक निर्वाचन के अधिकार को पूना पैक्ट ने समाप्त कर दिया और वह हथियार जो अछूतों को मिला था उसे गांधी जी ने पूना पै

यह लड़का किसी काम का नहीं, न बहु लाता है न बहुमत’!

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों के चुनाव में भाजपा परचम लहराती नजर आ रही है। भाजपा की इस जीत का असर सोशल मीडिया पर भी साफ नजर आ रहा है। फेसबुक, व्हाट्सअप सहित तमाम जगह जहां भाजपा और नरेंद्र मोदी के पक्ष में चुटकुले और कार्टून वायरल हो रहे हैं, वहीं एक बार फिर कांग्रेस के राहुल गांधी मजाक का विषय बन गए हैं। राहुल गांधी, अखिलेश यादव, मुलायम सिंह यादव और सोनिया गांधी को लेकर सोशल मीडिया पर खूब चुटकुले वायरल हो रहे हैं। आइए देखते हैं कुछ चुटकुले और गुदगुदाते हैं चुनावी माहौल में भारी हुए मन को। ‘पप्पू कूद पड्यो मेले में, साइकिल पंक्चर कर लायो’ राहुल गांधी कर कटाक्ष करते हुए यह चुटकुला खूब शेयर किया जा रहा है। जिसमें साइकिल वाले अखिलेश यादव के साथ गठबंधन करने के बाद राज्य में सपा भी साफ हो गई। बताया जा रहा है कि अखिलेश से ज्यादा पप्पू बोलकर संबोधित किए जा रहे राहुल गांधी के कारण यूपी चुनाव में सपा हार गई। ताजा रुझानों के मुताबिक उत्तर प्रदेश में राहुल गांधी सबसे आगे चल रहे हैं! इस तरह के चुटकुलों में यूपी में राहुल गांधी सबसे आगे चल रहे हैं, उनके पीछे अखिलेश यादव लट्ठ लेकर दौड़ र