Skip to main content

Posts

Showing posts with the label bihar

उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में, 48 घंटों में 38 की मौत

नई दिल्ली। तीव्र शीतलहर से सम्पूर्ण उत्तर भारत प्रभावित है। इनमें उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में सामान्य जीवन प्रभावित हुआ है। उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटों में 38 लोगों के मौत की सूचना है। शीर्ष मौसम वैज्ञानिकों को आशंका है कि जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की बेरुखी सामने आई है। भूमध्य सागर में उत्पन्न होने वाले असमान्य और शक्तिशाली 'पश्चिमी विक्षोभ' ने हिंदी पट्टी सहित समूचे उत्तर भारत को बीते पखवाड़े से ठिठुरने को मजबूर किया है। यह स्थिति चार से पांच दशकों में एक बार पैदा होती है, जो लोगों को नए साल की पूर्व संध्या पर भी कंपकंपाएगी। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. राजेंद्र जेनामणि ने कहा, 'यह लंबी अवधि है, जिसकी प्रकृति अनोखी है और यह पूरे उत्तरपश्चिम भारत पर असर डालेगी।' शीर्ष वैज्ञानिकों को आशंका है कि जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की बेरुखी सामने आई है और अप्रत्याशित मौसम की यह स्थिति लोगों को परेशान करती रहेगी। गंगा के मैदानी क्षेत्रों में घना कोहरा और हिंद महासागर की असामान्य वार्मिंग पश्चिमी विक्षोभ के लिए जिम्मेदा

बिहार सरकार के खिलाफ देशव्यापी विरोध -प्रदर्शन - पूर्वांचल सेना द्वारा

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के बालिका संरक्षण गृह में मासूम बालिकाओ  के साथ हुए दुराचार, बर्बरता के मामले में बिहार सरकार द्वारा की जा रही लापरवाही, एवं घटना में शामिल अपराधियों के खिलाफ ठोस कार्यवाही ना करते हुए मामले की लीपापोती में जुटे बिहार सरकार के खिलाफ देशव्यापी विरोध -प्रदर्शन के क्रम में गोरखपुर में भी पूर्वांचल सेना, पूर्वांचल नियुध्द अकादमी, दिशा छात्र संगठन, लालदेव ताइक्वांडो अकादमी, मेरा रंग, स्त्री मुक्ति लीग, मूलनिवासी मजदूर संघ आदि संगठनों ने नगर निगम स्तिथित रानी लक्ष्मीबाई पार्क में धरना देकर विरोध-प्रदर्शन करते हुए नीतीश सरकार से इस्तीफे की मांग की । मुजफ्फरपुर में बच्चों के साथ हुए बर्बरता का आक्रोश इतना ज्यादा था की भारी बारिश के दौरान भी प्रदर्शनकारी पार्क में डटे रहें और बिहार सरकारऔर रेपिस्टों के खिलाफ नारेबाजी करते रहे ।   सुबह 10:00 बजे से शुरू हुए इस विरोध प्रदर्शन के बाद उपस्थित लोगो ने दोपहर 1.00 बजे से नार निगम से पदयात्रा निकालकर जिला अधिकारी पहुंचे जहां उन्होंने, जिलाधिकारी के माध्यम से बिहार सरकार को ज्ञापन भेजकर, मुजफ्फरपुर के बालिका संरक्षण गृह में रह र

बहुचर्चित चारा घोटाले मामले में लालू यादव को साढ़े तीन साल की ज़ेल -

बहुचर्चित चारा घोटाले के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने आज लालू यादव को सजा सुनाई | बिहार | बहुचर्चित चारा घोटाले के मामले आज सी बी आई की विशेष अदालत ने बिहार की राजनीती के दिग्गज बाहुबली नेता लालू यादव को साढ़े तीन साल की सजा सुना दी साथ ही 5 लाख का जुर्माना भी लगाया | बहुचर्चित  चारा घोटाला मामले में देवघर कोषागार से 89.27 लाख की अवैध निकासी के मामले में लालू यादव को यह सजा सुनाई गई। सीबीआइ की विशेष कोर्ट में जज शिवपाल सिंह ने यह फैसला सुनाया। [caption id="attachment_4355" align="alignright" width="347"] s ne[/caption] अब लालू यादव को जमानत के लिए उपरी अदालत में जाना होगा | लालू यादव की और से उनके वकील ने सजा में नरमी बरतने की अपील की गई  लेकिन जज शिवपाल ने अपने आदेश पर कायम रहे | लालू यादव के अलावा पीएससी के पूर्व अध्यक्ष जगदीश शर्मा को इसी मामले में सात साल की सजा और बीस लाख रुपये जुर्माना की सजा सुनाई गई है। साथ ही आरके राणा को 3.5 वर्ष की सजा और 10 लाख जुर्माना, महेंद्र, राजाराम, सुनील कुमार सिन्हा, सुशील कुमार को भी 3.5 वर्ष और पांच लाख के जुर्म