Skip to main content

Posts

Showing posts with the label Sheetalhar

रेड वॉर्निंग: शीतलहर जारी रहने के मद्देनज़र, मौसम विभाग ने खतरनाक स्‍तर की चेतावनी जारी

जयपुर। मौसम विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, उत्तरप्रदेश, बिहार, हरियाणा, राजस्थान और पंजाब में आज और कल के लिए रेड वॉर्निंग जारी की है। यह सबसे गंभीर स्‍तर की चेतावनी है, जिसमें जान-माल को सर्वाधिक नुकसान होने की आशंका रहती है और लोगों को आमतौर पर यात्रा करने से बचने की सलाह दी जाती है। उत्तर भारत के कई इलाकों में शीतलहर की वजह से कड़ाके की ठंड पड़ रही है और अनेक स्थानों पर तापमान मौसम के न्यूनतम औसत स्तर से नीचे चला गया है। दिल्ली में आज इस मौसम का सबसे ठंडा दिन रहा। आज सुबह घने कोहरे के कारण दृश्यता बहुत कम हो गई जिससे रेल और हवाई यातायात पर असर पड़ा। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान के शू्न्य से पांच दशमलव छह तक नीचे गिरने से झीले, झरने और पानी के नल जम गए हैं और पीने के पानी की किल्लत पैदा हो गई है। बिजली आपूर्ति पर भी सख्त ठण्ड का भी विपरित असर पड़ रहा है। श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग में यातायात में आए दिन की बाधाएं भी कश्मीर घाटी में लोगों की कठिनाइयों को ठण्ड के इस मौसम में बढ़ा रही हैं। मौसम विभाग ने शीतलहर के और तेज होने का पूर्वानुमान व्यक्त किया है। जम्मू-कश्मीर में जम्मू

उत्तर भारत में शीतलहर जारी, राजस्थान के कई इलाके भीषण ठंड की चपेट में

जयपुर। उत्तर भारत के कई हिस्सों में शीतलहर जारी है। दिल्ली में दर्ज हुआ इस मौसम का सबसे न्यूनतम तापमान। राजस्थान के सीकर जिले का फतेहपुर प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा। जहां लगातार तापमान माइनस तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं चूरु में भी तापमान जमाव बिंदु के नीचे पहुंच गया। राजधानी जयपुर, कोटा, अजमेर में न्यूनतम तापमान लुढककर चार डिग्री दर्ज किया गया। घने कोहरे के कारण कई स्थानों पर सड़क और रेल यातायात पर बुरा प्रभाव पड़ा है। उत्‍तर भारत के कई भागों में शीतलहर जारी है। दिल्‍ली में कल इस मौसम का सबसे ठंडा दिन रहा और न्‍यूनतम तापमान सामान्‍य से तीन डिग्री कम होकर चार दशमलव दो डिग्री सेल्सियस पर आ गया। जम्‍मू-कश्‍मीर में श्रीनगर में रात का तापमान शून्‍य से पांच दशमलव छह डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया। श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग में यातायात में आए दिन की बाधाएं भी कश्मीर घाटी में लोगों की कठिनाईयों को ठण्ड के इस मौसम में बढ़ा रही हैं। चंडीगढ़ में तापमान छह दशमलव छह डिग्री सेल्सियस रहा। पूरे उत्तर प्रदेश में तापमान सामान्य से कई डिग्री नीचे चला गया है। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान

उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में, 48 घंटों में 38 की मौत

नई दिल्ली। तीव्र शीतलहर से सम्पूर्ण उत्तर भारत प्रभावित है। इनमें उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में सामान्य जीवन प्रभावित हुआ है। उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटों में 38 लोगों के मौत की सूचना है। शीर्ष मौसम वैज्ञानिकों को आशंका है कि जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की बेरुखी सामने आई है। भूमध्य सागर में उत्पन्न होने वाले असमान्य और शक्तिशाली 'पश्चिमी विक्षोभ' ने हिंदी पट्टी सहित समूचे उत्तर भारत को बीते पखवाड़े से ठिठुरने को मजबूर किया है। यह स्थिति चार से पांच दशकों में एक बार पैदा होती है, जो लोगों को नए साल की पूर्व संध्या पर भी कंपकंपाएगी। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. राजेंद्र जेनामणि ने कहा, 'यह लंबी अवधि है, जिसकी प्रकृति अनोखी है और यह पूरे उत्तरपश्चिम भारत पर असर डालेगी।' शीर्ष वैज्ञानिकों को आशंका है कि जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की बेरुखी सामने आई है और अप्रत्याशित मौसम की यह स्थिति लोगों को परेशान करती रहेगी। गंगा के मैदानी क्षेत्रों में घना कोहरा और हिंद महासागर की असामान्य वार्मिंग पश्चिमी विक्षोभ के लिए जिम्मेदा