Skip to main content

Posts

Showing posts with the label Rajnath Singh

देश की सीमाओं की रक्षा करने में सेना पूरी तरह सक्षम - रक्षामंत्री

नई दिल्ली। भारतीय सेना स्थिति से निपटने के लिए हर जरूरी कदम उठा रही है। नई दिल्ली में एक समारोह के मुख्य कार्यक्रम से अलग रक्षामंत्री ने यह बात कही। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय सेना देश की सीमाओं की रक्षा करने में पूरी तरह सक्षम है। इससे पहले, श्री राजनाथ सिंह ने रक्षामंत्री उत्कृष्टता पुरस्कार 2019 प्रदान किये। ये पुरस्कार छावनी बोर्डों के बेहतर कामकाज, दिव्यांग बच्चों के केन्द्र चलाने और स्वच्छ छवि स्वच्छ छावनी अभियान सहित आठ श्रेणियों में दिये जाते हैं। पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर सवाल पर राजनाथ सिंह ने कहा कि बॉर्डर को लेकर सारे देश को आश्‍वस्‍त रहना चाहिए। यही मैं कहना चाहूंगा क्‍योंकि हमारी सेना इतनी सक्षम है जो भी आवश्‍यक होगा वो सब करेगी ये आश्‍वस्‍त रहिए। बारामूला के पुलिस अधिक्षक अब्‍दुल कय्यूम ने आकाशवाणी को बताया कि पाकिस्‍तानी सेना ने इस क्षेत्र में हाजी पीर इलाके में भारी गोलाबारी की, जिसका भारतीय सैनिकों ने मुंहतोड़ जवाब दिया। उत्‍तर कश्‍मीर के उरी सेक्‍टर में नियंत्रण रेखा के समीप नागरिक ठिकानों और भारतीय अग्रिम चौकियों पर कल पाकिस्‍ता

राजनाथ सिंह और जयशंकर से राष्ट्रपति ट्रंप ने की भारत-अमेरिका संबंधों पर चर्चा

नई दिल्ली। भारत और अमरीका के बीच दूसरी 22 बैठक में विदेश नीति, रक्षा और आपसी सुरक्षा के मुद्दों की व्‍यापक समीक्षा की गई। भारत और अमरीका के बीच 22 यानी विदेश और रक्षा मंत्रियों की बैठक में द्विपक्षीय संबंधों पर व्‍यापक विचार-विमर्श किया गया। भारत ने अमरीका का आपदा पुनर्निर्माण संरचना संगठन-सी डी आर आई के संस्‍थापक सदस्‍य के रूप में स्‍वागत किया। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने राजनाथ सिंह और जयशंकर से की भारत-अमेरिका संबंधों पर चर्चाअमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने राजनाथ सिंह और जयशंकर से भारत-अमेरिका संबंधों पर चर्चा की। व्हाइट हाउस स्थित राष्ट्रपति के कार्यालय ओवल ऑफिस में करीब 30 मिनट तक चली। तीन दिवसीय वाशिंगटन के दौरे पर आए जयशंकर ने कहा, 'राष्ट्रपति ट्रंप से बैठक एक शिष्टाचार भेंट थी,' उन्होंने बताया कि इस दौरान दोनों देशों के विभिन्न मुद्दों पर हुई प्रगति पर चर्चा की गई। जयशंकर ने बताया कि इस दौरान कारोबार पर संक्षिप्त चर्चा हुई। जयशंकर ने कहा कि यह विषय बड़े एजेंडे के अंतर्गत आता है. यह बैठक उस दिन हुई जिस दिन अमेरिकी कांग्रेस के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रजंटेटिव ने ट्रंप के खिलाफ