Skip to main content

Posts

Showing posts with the label Rajendra Rathore

दारासिंह हत्याकांड: कोर्ट ने बरी किए सभी आरोपी

जयपुर। राजस्थान के बहुचर्चित दारासिंह हत्याकांड को लेकर मंगलवार को कोर्ट ने अहम फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। अतिरिक्त एंव जिला सत्र न्यायाधीश रमेश जोशी ने फैसला सुनाया। 2006 के इस बहुचर्चित एनकाउंटर मामले में करीब 17 लोगों को आरोपी बनाया गया था। जिसमे करीब 14 पुलिसकर्मी शामिल थे। इस मामले में तत्कालिक मंत्री राजेन्द्र राठौड़ को भी आरोपी माना गया था और उनहे जेल भी जाना पड़ा था। इससे पहले कोर्ट ने 23 फरवरी को अपना फैसला सुरक्षित रखा था। जिसे मंगलवार को कोर्ट ने अपना अंतिम फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया। जानकारी के अनुसार 23 अक्टूबर 2006 में जयपुर में दारा सिंह एनकाउंटर किया गया था। इस एनकाउंटर को दारा सिंह की पत्नी ने फर्जी बताया था और इसे हत्या बताते हुए एक याचिका दायर की थी। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपी थी। सीबीआई ने अपनी जांच कर एक रिपोर्ट कोर्ट को सौंपी थी। जिसमे मंत्री राजेन्द्र राठौड़, तत्कालीन एडीजी एके जैन सहित 17 लोगों को आरोपी बनाया था। इसके बाद राजेन्द्र राठौड़ को भी जेल भेजा गया था। राजेन्द्र राठौड़ को करीब 51 दिनों तक जेल

सदन परम्पराओं से चलता है : मेघवाल

जयपुर। राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष कैलाश चन्द्र मेघवाल ने कहा कि सदन परम्पराओं से चलता है लेकिन समय के अनुसार परम्पराओं को बदलना भी चाहिये। मेघवाल ने यह व्यवस्था आज शून्यकाल में संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र राठौड़ द्वारा मंत्रीमंडल की बैठक में हुये निणर्यों की जानकारी सदन में देने की अनुमति प्रदान करने की मांग के दौरान दी।   संसदीय कार्यमंत्री की ओर से अनुमति मांगते ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रद्दयुम्न् सिंह ने इसका विरोध करते हुये कहा कि मंत्रीमंडल में लिये जाने वाले निर्णयों की घोषणा सरकार द्वारा पत्रकार वार्ता अथवा प्रेसनोट जारी करके दी जाती रही है। उन्होंने कहा कि मंत्रीमंडल के निर्णयों की घोषणा सदन में करने की परम्परा कभी नहीं रही है और न ही सदन के माध्यम से दी जाती रही है। उन्होंने आसन से भी आग्रह किया कि इसकी अनुमति देकर गलत परम्परा नहीं डाले। इस पर संसदीय कार्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की अध्यक्षता में आज मंत्रीमंडल की बैठक इसी परिसर में हुयी है और सदन यदि इसकी अनुमति दे तो वह इसे सदन में रखना चाहते है। विधानसभा अध्यक्ष ने कांग्रेस सदस्यों की ओर से किये गये विर