Skip to main content

Posts

Showing posts with the label Jhunjhunu

मंत्रिपरिषद में फेरबदल की अटकलों को लेकर विधायकों की बैठक लेगी वसुंधरा राजे

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मंत्रिपरिषद में फेरबदल को लेकर चल रहे अटकलों के बीच आज शाम 4 बजे जयपुर संभाग के विधायकों की बैठक बुलाई है। इस बैठक में जयपुर ,दौसा, अलवर,सीकर और झुंझुनू जिले के भाजपा विधायक शिरकत करेंगे। आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत के क्या आधार हो सकते है साथ ही क्षेत्र की समस्याओं पर चर्चा की जाएगी।   बैठक में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी और संगठन महामंत्री चंद्रशेखर भी मौजूद रहेंगे। गौरतलब है कि उपचुनाव में मिली करारी हार के बाद से ही सत्ता और संगठन के स्तर पर मंथन का दौर जारी है। इसी के चलते संभागवार भाजपा विधायकों की बैठक का दौर चल रहा हैं। इन बैठकों में जयपुर संभाग बच रहा था जिसकी बैठक आज बुलाई गई है। पार्टी के पदाधिकारियों ने बताया कि बैठक में मौजूदा विधायकों से क्षेत्र में आ रही समस्याओं के बारे में जानकारी ली जाएगी। साथ ही आगे आने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को किस तरह से जीत मिल सकती है इसके लिए सुझाव लिए जाएंगे। जानकारों के अनुसार मंत्रिपरिषद में फेरबदल से पहले पार्टी के शीर्ष पदाधिकारी संभागवार भाजपा विधायकों की बैठक करके संगठन और मुख्यमंत

युद्ध हो या अकाल हो, झुंझुनूं झुकना नहीं, लड़ना जानता है: मोदी

झूंझूंनू। मौका महिला दिवस का इस मौके पर देश के प्रधानमंत्री राजस्थान के शेखावाटी के झूंझूंनू जिले में पहुंचे। पीएम मोदी ने यहां राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत की। पीएम मोदी ने इस मौके पर लोगो को संबोधित करते हुए कहा कि "ये वीरो की भूमि है। इस जिले ने साबित कर दिया है कि युद्ध हो या अकाल हो, झुंझुनूं झुकना नहीं, लड़ना जानता है।   इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने झूंझूनू के लिंगानुपात को लेकर जिले की जमकर तारीफ की। आपको बता दें कि 2011 में जहां झूंझूंनू में 1000 बेटों पर 837 बेटिंया थी। तो वहीं अब 1000 बेटों पर 955 बेटियां है। इस मौके पर राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, बॉलीवुड़ एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी मौजूद रहीं। प्रधानमंत्री मोदी ने लोगो को संबोधित करते हुए पीए मोदी ने कहां कि ''सामाजिक बुराइयों के चलते हमने अपनी ही बेटियों की बलि चढ़ाना तय कर लिया। कई दशकों तक बेटियों को नकारते रहे, आज 4 से 5 पीढ़ियां जमा हुई हैं। कई सालों में जो घाटा हुआ, उसे पूरा करने में समय तो लगेगा, लेकिन तय कर लें कि बेटा और बेटियां बराबर पढ़ेंगी। जितने बेटे पैदा हो

8 मार्च को राजस्थान के झुंझुनू में राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत करेंगे PM मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आठ मार्च को राजस्थान के झुंझुनू में राष्ट्रीय पोषण मिशन (एनएनएम) की शुरुआत करेंगे। कैबिनेट ने पिछले वर्ष दिसम्बर में एनएनएम के लिए 2020 तक 9046.17 करोड़ रुपए के बजट को मंजूरी दी थी और सरकार का उद्देश्य इस मिशन का लाभ दस करोड़ लोगों तक पहुंचाना है। इस मिशन का लक्ष्य कुपोषण और कम वजन के बच्चों की जन्मदर को प्रति वर्ष दो फीसदी तक कम करना है। इसका उद्देश्य बच्चों, महिलाओं और युवतियों में एनीमिया की कमी को 2020 तक प्रति वर्ष तीन फीसदी कम करना है। साथ ही वर्तमान में स्टंटिग को 38.4 फीसदी से 2022 तक 25 फीसदी तक लाना है। कुल बजट आवंटन में से 50 फीसदी इंटरनेशनल बैंक ऑफ रिकन्स्ट्रक्शन एंड डेवलपमेंट (आईबीआरडी) या अन्य बैंक योगदान करेंगे। शेष राशि राज्यों और केंद्र के बीच 60 और 40 के अनुपात में साझा की जाएगी।केंद्र का कुल योगदान 2849.54 करोड़ रुपए होगा और राज्य सरकारें करीब 1700 करोड़ रुपए का योगदान करेंगी। प्रधानमंत्री बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम का पूरे भारत में विस्तार का भी उद्घाटन करेंगे। देश में वर्तमान में 161 जिल