Skip to main content

Posts

Showing posts with the label Jammu and Kashmir

जम्मू-कश्मीर से आतंकवादियों को बाहर निकालने के लिए नाकेबंदी कर, सघन तलाश अभियान चलाने का आह्वान

जम्मू।  जम्मू-कश्मीर पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने आतंकवादियों को निकाल बाहर करने के लिए कश्मीर में नाकेबंदी करके सघन तलाशी अभियान चलाने का आह्वान किया है। पाकिस्‍तानी सेना ने इस क्षेत्र में हाजी पीर इलाके में भारी गोलाबारी की, जिसका भारतीय सैनिकों ने मुंहतोड़ जवाब दिया। उत्‍तर कश्‍मीर के उरी सेक्‍टर में नियंत्रण रेखा के समीप नागरिक ठिकानों और भारतीय अग्रिम चौकियों पर कल पाकिस्‍तान की ओर से की गई गोलाबारी से सेना का एक जेसीओ शहीद हो गया और एक अन्‍य महिला की भी मौत हो गई। बता दें कि गृह मंत्रालय ने संविधान के अनुच्‍छेद-370 और 35 ए को हटाने तथा जम्‍मू कश्‍मीर और लद्दाख को देश के अन्‍य राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के समान स्थिति में लाने जैसे ऐतिहासिक कदम उठाए हैं। केन्‍द्र सरकार ने शिक्षा, अनुसूचित जाति और जनजाति तथा अल्‍पसंख्‍यकों के सशक्तिकरण के लिए जो कानून बनाए हैं वे अब जम्‍मू कश्‍मीर और लद्दाख में भी लागू हो गए हैं। केंद्र सरकार द्वारा उठाये गये कदमों के कारण, नक्‍सल हिंसा से प्रभावित जिलों में कमी आई है। 2010 में जहां 96 जिले नक्‍सल हिंसा से प्रभावित थे जिसकी संख्‍या घटकर

पाक सेना ने किया सीजफायर उल्लंघन, उरी सेक्टर में एक जवान शहीद

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में पाकिस्तान की सेना के जवानों द्वारा किए गए सीजफायर उल्लंघन में इंडियन आर्मी का एक सैनिक शहीद हो गया। पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तान की इस कायराना हरकत का मुंहतोड़ जवाब भी दिया जा रहा है। इससे पहले जम्मू-कश्मीर के बारामूला और शोपियां जिलों में अलग-अलग अभियानों में लश्कर-ए-तैयबा के एक आतंकी और जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस टीम इन आतंकियों से पूछताछ कर रही है। पाकिस्तान की सेना के जवानों द्वारा किए गए सीजफायर उल्लंघन में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया है। जम्मू-कश्मीर के बारामूला और शोपियां जिलों में चार आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस इनसे लगातार पूछताछ कर कनेक्शन तलाशने में जुटी है। भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी बैट टीम के हमले की बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया था। सेना ने पाकिस्तान के दो स्पेशल सर्विस ग्रुप कमांडो को मार गिराया था।