Skip to main content

Posts

Showing posts with the label CBI controversy - when the flames of the Constitution blow

CBI - बुलेट प्रूफ जैकेट डील [639 करोड़ ] और राफेल का क्या है इंटरनल कनेक्शन - जाने यहाँ ख़ास

ख़ास रिपोर्ट - लाल फीताशाही का मायाजाल  सीबीआई - भाजपा फण्ड ,राफेल और बुलेट प्रूफ जैकेट डील के त्रिकोणीय पेंच में फसी - भाजपा  सीबीआई कार्यवाहक निदेशक नागेश्वर राव का दागी इतिहास & जूनियर अधिकारी होने के बावजूद उनको नियुक्त किया जाना मोदी सरकार पर स्वालिया निशान - आखिर क्यों  यदि आलोक वर्मा को न हटाया जाता तो राफेल घोटाले के साथ साथ एक और घोटाले बुलेट प्रूफ जैकेट 639 करोड़ का खुलासा सीबीआई जाँच में निकल आता और इस आग की तपिश फिर से कई नए नामों को झुलगा देती -जिसके लिए भाजपा तैयार नहीं  नागेश्वर राव का दागी इतिहास - सीबीआई कार्यवाहक निदेशक नागेश्वर राव का दागी इतिहास और जूनियर अधिकारी होने के बावजूद उनको नियुक्त किया जाना मोदी सरकार की खोटी नियत और भ्रष्टों का साथ साबित करता है  यह नागेश्वर राव का एनुअल प्रॉपर्टी रिटर्न है जो गृह मंत्रालय में जमा किया गया था , इसके अनुसार एक प्रॉपर्टी आंध्र प्रदेश में नागेश्वर राव की पत्नी के नाम से होना बताया गया है ,जो उनकी पत्नी और साले के जॉइंट नाम पर है ,इसके लिए 25 लाख रूपये एक कंपनी  एंजेला मर्केंटाइल प्राइवेट लिमिटेड से ऋण लेना बताया गया है। इस

CBI विवाद - जब संविधान की धज्जियाँ उड़ती हैं, तब रात को जूते की टाप सुनाई देती है - रात का सच

भ्रष्टाचार -  जब संविधान की धज्जियाँ उड़ती हैं, तब रात को जूते की टाप सुनाई देती है - जाने क्या है रात का राज  जब भारत की जनता गहरी नींद में सो र ही थी, तब दिल्ली पुलिस के जवान अपने जूते की लेस बाँध रहे थे। बेख़बर जनता को होश ही नहीं रहा कि पुलिस के जवानों के जूते सीबीआई मुख्यालय के बाहर तैनात होते हुए शोर मचा रहे हैं। लोकतंत्र को कुचलने में जूतों का बहुत योगदान है। जब संविधान की धज्जियाँ उड़ती हैं, तब रात को जूते बाँधे जाते हैं। पुलिस के जवान सीबीआई दफ्तर को घेर लेते हैं। रात के पौने एक बज रहे होते हैं। वैसे अंग्रेज़ों में वह गुडमार्निंग कहने का होता है। हम रात को रात कहते हैं। मुल्क पर काली रात का साया गहरा गया है। तभी एक अफ़सर जो शायद जागा हुआ था, उस कुर्सी पर बैठने के लिए घर से निकलता है जिस कुर्सी पर बैठे आलोक वर्मा ने उसके ख़िलाफ़ CVC यानी केंद्रीय सतर्कता आयुक्त से गंभीर आरोपों में जाँच की अर्ज़ी दी है। CVC के वी चौधरी एम नागेश्वर राव को सीबीआई का नया चीफ़ बनाने का रास्ता साफ़ कर देते हैं। एम नागेश्वर राव अपने नंबर वन चीफ़ आलोक वर्मा को हटाने के आदेश देते हैं जिसे छुट्टी पर भेजन