Skip to main content

Posts

Showing posts with the label राजस्थान न्यूज

रामगंज थाना क्षेत्र के मंडी खटीकान में कोविड -19 से बचाव के लियें यूनानी दवा जोशांदा पिलाई गई

कोविड - 19  जयपुर - वैश्विक महामारी कोविड -19 से बचाव के लियें यूनानी चिकित्सा विभाग द्वारा डॉ मनमोहन खिंची के निर्देशन में मंडी खटीकान रामगंज जयपुर में जोशांदा ( युनानी दवा ) पिलाई गई जिसमें लगभग 350 से अधिक महिला पुरुष और बच्चों ने दवाई पी | जिसमे यूनानी विभाग के कंपाउंडर नवल सिंह और विनोद कुमार ने अपनी सेवा दी व वही रामगंज थाना द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग की पालन में सहयोग किया | इस अवसर पर डॉ मनमोहन खींची यूनानी चिकित्सा अधिकारी ने बताया  कि इस वैश्विक महामारी में यह यूनानी दवा जोशांदा शरीर में रोग - प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने में  कारगर हैं इस महामारी से बचाव  के लियें सभी लोगों को सरकार के निर्देशो का पालन सख़्ती करना चाहियें | संत दुर्बलनाथ सत्संग मंडल के कार्यकर्ताओं ने इस कार्यक्रम में सहयोग किया  इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश सोयल , यशवंत असवाल , पवन देव  आदी उपस्थित रहें गौरतलब है की रामगंज क्षेत्र लम्बे समय से कोविड 19 का हॉट स्पॉट बना हुआ है और प्रशासन द्वारा इस क्षेत्र में कर्फ्यू लगाया हुआ है वर्तमान समय में रामगंज थाना क्षेत्र के मंडी खटिकान में भी कोरोना पोजिटिव की

भट्टा बस्ती क्षेत्र - बाल श्रमिक को कारखाने मालिक ने भयंकर मारपीट कर आधी रात में भगाया

जयपुर | जयपुर का भट्टा बस्ती क्षेत्र बाल श्रमिको का केंद बना हुआ है लम्बे समय से वही भट्टा बस्ती शास्त्री नगर पुलिस थाने की कारवाई हमेशा संदिग्ध रहती है उसका ही ताजा उदाहरण आज देखने को मिला . जिसमे एक चूड़ी कारखाने में कार्यरत बाल श्रमिक को लॉक डाउन के समय में ही चूड़ी कारखाने के मालिक ने भयंकर रूप से मारपीट कर घर से भगा दिया जिसके बाद बाल श्रमिक ( रिंकू परिवर्तन नाम )   उस क्षेत्र से  डर के कारण भाग गया . बाद में वह बाल श्रमिको के लियें कार्यरत संस्था चाइल्ड राइट वॉच ग्रुप के संयोजक बसंत हरियाणा  के सम्पर्क में आया जिसके बाद बच्चे को बाल कल्याण समिति के सौपा गया | चाइल्ड राइट वॉच ग्रुप के संयोजक बसंत हरियाणा ने कहा - दिनांक 24 मई रविवार 2020 को मुझे बसन्त हरियाणा को सूचना प्राप्त हुई कि भट्टा बस्ती थाना क्षेत्र में एक बाल श्रमिक जिसे उसके कारखाना मालिक द्वारा भयंकर रूप से मारा गया था। वह मार खाने के बाद वह बालक भाग कर दो दिन तक भट्टा बस्ती क्षेत्र में ही इधर उधर छिप रहा हैं । दो दिन बाद जब उस पर नज़र क्षेत्र के ही कुछ संवेदनशील और जागरूक नागरिको की पड़ी तो उन्होंने उसे भट्टा बस्ती थाने मे

राजस्थान अब " दलितअत्याचारस्थान " - लॉक डाउन के समय में दलितों अत्याचारों में बढ़ोतरी - प्रशासन की करवाई संदिग्ध

लॉक डाउन की आड़ में दलित अत्याचार चरम पर - जयपुर |  यूपी के संभल की ताजा घटना आप को याद होगी की किस प्रकार दलित नेता  { पिता - बेटे  } की किस प्रकार सभी गांववासियों के सामने गोली मार के हत्या कर दी गई थी अकसर हमारे सामने यूपी की घटना तो सामने आती है लेकिन अब राजस्थान भी दलित .वंचित व् गरीबो पर अधिक हत्याचार हो रहे हैं वैसे  वर्तमान समय में दलित हत्याचार के मामलो में राजस्थान  प्रथम स्थान पर है    राजस्थान के युवा सामाजिक कार्यकर्ता रवि कुमार मेघवाल ने कहा -   वर्तमान लॉक डाउन के समय में जब लोग अपने घरो में केद है फिर भी दलितों पर अत्याचार सवर्णों द्वारा अधिक हो रही है जैसे - गांव सूरतपुरा, मंडावरी  पुलिस थाना, लालसोट (राज. ) प्रकरण  दिनांक 15 मई 2020 को सुबह 7 :30 बजे  सुरतपुरा डालिया की ढाणी मैं एक दलित परिवार के सदस्यों में गाय के खेतों में घुसने संबंधित  विवाद हो गया था जिसके बाद झगड़े में कुछ दलित परिवार के सदस्यों को गंभीर चोट आई वह स्थानीय अस्पताल में अपना इलाज करा रहें थे जब पुलिस प्रशासन को घटना की जानकारी हुई तो पुलिस पीडितो के घर जाकर जांच करने के बजायें पीड़ित परिवार के बच्चे म

राजस्थान में 50 हजार से अधिक पदों की व् 3 दर्जन से ज्यादा भर्ती परीक्षाएं इस महामारी के बीच अटक गई हैं - ईरा बोस

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहें बेरोजगार युवा की समस्या समझे - मुख्यमंत्री गहलोत कोरोना वैश्विक महामरी ने जहाँ सभी वर्गों को बुरी तरह से प्रभावित किया है वही लम्बे समय से प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करने वाले युवा बेरोजगारों को भी कुछ समझ ही नहीं आ रहा की आगे क्या होगा या कहें उनके अरमानों पर पानी सा फिर गया है | अभ्यर्थी पहले से ही लेट लतीफी का शिकार होते रहें है अब वह भर्तियों के समय पर पूरा होने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन कोरोना लॉक डाउन ने बेरोजगारी के साथ नौकरी का लंबा इंतजार करा दिया है। राज्य में लगभग 50 हजार से अधिक पदों की 3 दर्जन से ज्यादा भर्ती परीक्षाएं इस महामारी के बीच अटक गयी। किसी भर्ती की घोषणा हो जाने के बाद विज्ञापन जारी नही हुआ तो कही विज्ञापन जारी हुई भर्ती का परीक्षा आयोजन नही [caption id="attachment_10032" align="alignright" width="456"] मुख्यमंत्री - राजस्थान अशोक गहलोत { फ़ाइल् फोटो }[/caption] हुआ, जिनकी परीक्षाएं हो गयी वहां परिणाम जारी नही हुआ, जहां परिणाम जारी हो गया वहा नियुक्ति अटक गई। वहीं कई भर्तियां वर्षो से लंबित

राजस्थान सरकार अभिभावकों की आर्थिक स्थिति को समझे और प्राइवेट स्कूलों की 3 माह की फ़ीस माफ़ करें - पवन देव

Fanaticism regarding the fees of private schools wrong - Pawan Dev जयपुर | प्राइवेट स्कूलों की फ़ीस को लेकर अभिभावक व् स्कूल प्रशासन में खीचतान चल रही है जिसका कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकल पाया है इस को लेकर सोशल एक्टिविस्ट व् जर्नलिस्ट पवन देव ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लेटर लिखकर - इस वैश्विक महामारी कोविड -19 व् लॉक डाउन के चलते अभिभावकों की जो आर्थिक स्थिति ख़राब हुई है जिसके चलते उनका घर चलाना भी मुश्किल हो गया है की और ध्यान दिलाते हुयें कहा है की  गैर सरकारी स्कूलों  द्वारा इस लॉक डाउन के समय जो फ़ीस वसूली की जा रही है उस पर तुरंत प्रभाव  से रोक लगाई जायें व्  3 माह की स्कूल की फ़ीस माफ़ की जायें |    मोहदय गौरतलब है की देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश में 22 मार्च को मध्य रात्रि को लॉक डाउन करने का आदेश जारी करा था जिसके साथ ही राजस्थान सरकार ने भी राजस्थान में लॉक डाउन को सख्ती से लागू किया जिसके चलते रा [caption id="attachment_9075" align="alignright" width="297"] PAWAN DEV - JAIPUR [/caption] जस्थान में सकारात्मक परिणाम न

आज से शुरू होगी - 400 मोबाइल ओपीडी वैन , प्राइवेट अस्पताल पर सख्त - मुख्यमंत्री गहलोत

288 राशन डीलरों के लाइसेंस निलंबित, निजी अस्पतालों ने किसी मरीज को वापस भेजा तो सख्त कार्रवाई - मुख्यमंत्री जयपुर, 21 अप्रेल। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण आम रोगियों को परेशानी का सामना नहीं करना पडे़, इसके लिए प्रदेशभर में बुधवार से 400 ओपीडी मोबाइल वैन संचालित की जाएंगी। ये मोबाइल वैन उपखण्ड मुख्यालयों के साथ ही अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर उपलब्ध होंगी और गांव-कस्बे तक पहुंचकर मरीजों को सामान्य बीमारियों का उपचार उपलब्ध करवाएंगी। किसी को गंभीर बीमारी होने की जानकारी मिलती है तो इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी जाएगी, ताकि रोगी को तुरंत इलाज मिल सके। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दे दिए गए हैं।  गहलोत मंगलवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पत्रकारों के साथ वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि निजी अस्पतालों में कोरोना के कारण नियमित रोगियों को समुचित उपचार सुविधा उपलब्ध नहीं होने की शिकायतें सामने आई हैं। सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है और कई अस्पतालों को नोटिस भी दिया है। उन्होंने दो टूक शब्दों में कहा

राजस्थान वाल्मीकि विकास मंच ने लिखा प्रधानमंत्री मोदी को पत्र - सफाई कर्मचारियों की पीड़ा से कराया अवगत

कोरोना - राजस्थान वाल्मीकि विकास मंच ने लिखा राष्टपति रामनाथ कोविंद  व् प्रधानमंत्री  को पत्र - सफाई कर्मचारियों की पीड़ा से कराया अवगत राजस्थान . जयपुर | कोनोना वैश्विक महामारी को लेकर जहाँ सभी देश चिंतित है भारत के प्रधानमंत्री ने भी देश में कड़े कदम उठायें है लेकिन देश की सफाई व्यवस्था में जिस वंचित समाज की मुख्य ज़िम्मेदारी है केंद्र की सरकार व् राज्य सरकारों ने इस दिशा में कोई ठोस कदम नहीं उठायें है जिसका लेकर दलित अधिकार केंद्र राजस्थान के तत्वधान में राजस्थान वाल्मीकि विकास मंच ने देश के महामहिम रामनाथ नाथ कोविंद , प्रधानमंत्री मोदी , राष्टीय अनुसूचित आयोग का ध्यान समाज के वंचित वर्ग की इस सक्रमण { कोविड -19 } से रक्षा व् उनके परिवार को आश्वत करने का आग्रह किया है और निम्न मांग की मांग की है सम्पूर्ण भारत के शहरी एंव ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत समस्त सफाई कर्मचारियों की पुनः गणनाकर प्रधान मंत्री जी गरीब कल्याण पैकेज-बीमा योजना के अन्तर्गत छूटे हुए सफाई कर्मचारियों को शामिल कर संशोधित सामूहिक बीमा कोरोना वाईरस के दिशा में सकारात्मक कदम उठायें | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज आर्थि

जयपुर में उठा - बाल मजदूरों के संरक्षण का मुद्दा - मुख्यमंत्री को दिया गया ज्ञापन - प्रशासन सख्त

Flames come to rescue child and fraternity workers - Child Watch Group [caption id="attachment_10780" align="alignright" width="107"] basant hariyana[/caption] जयपुर | जयपुर शहर वर्तमान में कोरोना वायरस " कोविड -19 का केंद बना हुआ है जयपुर में लगभग 20 हजार से अधिक बाल मजदुर चूड़ी , साडी काट -चौक ,हस्तकला  अन्य कार्यो में जुड़े है  जिनमे प्रमुख शास्त्री नगर - भट्टा बस्ती, संजय नगर, बिहारी टीला, इमाम चौक, गुजरात चौक, भांडा बस्ती, चांदपोल ब्रह्मपुरी, तोपखाने का रास्ता शारदा कॉलोनी, निंदार राव जी का रास्ता , रामगंज गलता गेट, बाबू का टिबा, दखोतन कॉलोनी | अब जब शहर में  कर्फ्यू लगा है उससे पहले लॉक डाउन था तो गरीब - तबके के लोग परेशान है उनके पास भोजन की गंभीर समस्या भी उत्पन्न हो गई है तो एक बंद कमरे में 10-20 लोग एकत्रित काम करने वाले बाल मजदुर कहाँ है केसे है कही कोई कोरोना के सक्रमण तो नहीं यह बड़ा सवाल है जिसको लेकर बाल एवं बंधुओं मजदुर को लेकर काम कर रहें संगठन - चाइल्ड वाच ग्रुप आगें आया हैं और संस्था के जयपुर प्रभारी बसंत हरियाणा ने मुख्यमंत्री अशोक ग

प्रवासी मजदूरो की हत्या की ज़िम्मेदारी कोनसी सरकार लेगी केंद्र या राज्य - राहुल चोधरी

Corona battle with global epidemic The rich are suffering the brunt of the flattening of the people - the people of India and 130 crore people - administration has been careless - Rahul Chodhari जयपुर | जयपुर की तंग गलियों में चार दिवारी क्षेत्र में इन दिनों कुछ युवा जरूरतमंद ,गरीबो को राशन पहुँचाने व् खाना खिलाने का काम करते देखे जा रहे है , पिछले कुछ दिनों में पेंटर कॉलोनी व्  जयपुर के कई क्षेत्रो में इन्हें देखा गया जब हमारी टीम ने इनसे बात की तो पता लगा की इनमें से कुछ पत्रकार है, कुछ वामपंथी छात्र संगठनों से है, कुछ वामपंथी पार्टियों से हैं, कुछ जमीयत उलेमा हिन्द से है ये ज्यादातर जयपुर से हैं कुछ बाहर के है और लॉक डाउन में फँस गए है पूछताछ करने पर पता चला कि इनमें से एक पत्रकार भी है जिनका नाम ईशा शर्मा है जो न्यूज़ बाईट में कंटेंट एडिटर है और लोक डाउन में फंस गई हैं और वर्क फ्रॉम होम कर रहीं है और बाकी समय मे माइग्रेंट वर्कर्स को खाना बाँटने का काम करती है, इस हेतु वो पूरा दिन ये योजनाएं भी बनाती है कि कहा से खाना मिल सकता है | दूसरा नाम है राहुल चौधरी जो राज्य सरकार की लॉक डाउन

Conferencing With District Collectors and cm gehlot -

Conferencing With District Collectors-SPs Over Corona Infection Objective of Lockdown Is Social Distancing Essential Services Should Not Be Interrupted – CM Jaipur, March 24. Chief Minister Shri Ashok Gehlot has said that coronavirus can be kept at bay only through social distancing. The objective of lockdown is that people stay in their houses. He said that supply of essential services should be smooth during the lockdown. The District Collectors and the Superintendents of Police should ensure that the directions given for lockdown were completely followed, otherwise curfew would be have to be imposed, he said. Gehlot was reviewing the situation of lockdown with the Collectors and the SPs across the state through video conferencing on Tuesday. He said that a 'war room' was made operational at the state-level and similar 'war rooms' should be set-up at all districts. These war rooms should function round-the-clock and senior officers should be deployed on duty. The war

SIDBI - Joint of DICCI and ST -ST HUB "Swavalamban Sankalp - Mega Campaign Starts"

Small Business Development Bank of India (SIDBI) in association with Dalit Indian Chamber of Commerce and Industry (DICCI) and National Schedule Cast and Schedule Tribe to fill "Stand Up India Scheme" Business Opportunity Program Pan India "Swavalamban Sankalp-Mega Campaign " 'S one-day outreach, Anwaran and series debuts The Small Industries Development Bank of india (SIDBI) in association with Dalit Indian Chamber of Commerce and Industry (DICCI) and National Schedule Caste & Schedule Tribe will be jointly staring 'Swavlamban Sankalp-Mega Campaign" a series of one day outreach, awarenes and business opportunity programme pan india to give fillip to "Stand Up India Scheme". DICCI Founder Chairman Dr. Milind Kamble announced this at a press conference on Sunday. The campaign is scheduled to be held at 30 locations across the country. The programme of the series shall be innaugurated in Nagpur on March 2 at Hotel Centre Point, Ramdaspeth, N

कोई भी गरीब व् वंचित बच्चा शिक्षा से महरूम नहीं होगा - हेमलता कांसोटिया

Hemlata Konsotia, a pioneer in the social sector, today gave directions to her team regarding the admission of children from poor and disadvantaged sections through RTE in Kishanpol Assembly {Heritage Jaipur}  जयपुर | सामाजिक क्षेत्र में अग्रणी नाम हेमलता कांसोटिया ने आज किशनपोल विधानसभा { हेरिटेज जयपुर } में  गरीब व् वंचित वर्ग के बच्चों को   राइट  टू एजुकेशन के माध्यम से प्रवेश दिलाने के सम्बन्ध में अपनी टीम को दिशा - निर्देश दियें | हेमलता जी ने बताया की आज जयपुर शहर { हेरिटेज } में दलित - मुस्लीम व् वंचित वर्ग के गरीब तबके के लोग अधिक निवास करते है जिनका मुख्यकार्य मजदूरी होता है वह जानकारी व् उचित मार्गदर्शन के अभाव में सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं ले पाते  जिसके वह हक्कदार है में { हेमलता } लम्बे समय से दिल्ली व् राजस्थान में दलित समाज व् वाल्मकि समाज के सफाई कर्मचारियों { सीवरेज वर्कर } को लेकर लम्बे समय से काम कर रही हूँ जिसके चलते आज दिल्ली में कोई भी व्यक्ति सीवरेज में नहीं उतरता है आज सारी प्रक्रिया मशीनी हो चुकी है और जिन लोगो की सीवरेज में सफाई के दौरान दम घुटने से मौत हुई ह

चूल्हा,सिगड़ी, लालटेन और पंखी के साथ किया बढ़ती महंगाई के ख़िलाफ़ प्रदर्शन -

Jaipur - Protest Against Inflation - Demonstration against rising inflation with stove, cigarette, lantern and fan जयपुर | राजस्थान नागरिक मंच की अगुवाई में जिलाधीश कार्यालय पर घरेलू गैस सिलेंडर और घरेलू बिजली की बढ़ी दरों के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। राजस्थान नागरिक मंच के महासचिव बसन्त हरियाणा ने विज्ञप्ति जारी कर बताया कि केंद्र की भाजपा सरकार और राज्य की कांग्रेस सरकार द्वारा घरेलू गैस सिलेंडरों व घरेलू बिजली की बढ़ी दरों के खिलाफ सैकड़ो की संख्या में सिगड़ी,चूल्हा,पंखी और लालटेन को लेकर प्रदर्शन किया। इस अवसर पर "महंगाई मार गई और महंगाई डायन खात जात है" जैसे फिल्मी गानों को सुनकर और "भाजपा-कांग्रेस एक दूसरे पर मत दोष लगाओ, महंगाई पर रोक लगाओ" नारे लगाकर विरोध प्रदर्शन किया। दो घण्टे के विरोध प्रदर्शन के बाद राजस्थान नागरिक मंच की हेमलता कसौटियां के नेतृत्व में रुखसाना उस्मान,सन्तोष पारीक,सरोज बड़ेरिया, रुबीना,अनिता सिंह बड़गुर्जर, आरिफा आदिल,विद्या पंजाबी,राजकुमारी डोगरा का प्रतिनिधिमंडल जिलाधीश जयपुर से मिला और उन्हें प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

शर्मनाक - कांग्रेस पार्टी के पहले अध्यक्ष गोकुल भाई भट्ट की समाधि पर आज भी लगे है ताले - कांग्रेस शासन में भी - अध्यक्ष सचिन पायलेट व् मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आखिर चुप क्यों -

राजस्थान कांग्रेस प्रदेश कार्यलय पर धरना देने की चेतावनी - गांधीवादी संगठनों द्वारा  गोकुल भाई भट्ट की 123 वी जयंती पर उभरा भारी आक्रोश - जयपुर |  राजस्थान के गांधी और प्रदेश कांग्रेस कमेटी राजस्थान के प्रथम अध्यक्ष गोकुल भाई भट्ट की 123 वी जयंती दुर्गापुरा स्थित उनके समाधि स्थल पर मनाई गई। कार्यक्रम की जानकारी देते हुए गोकुल भाई भट्ट स्मारक समिति के प्रवक्ता अनिल गोस्वामी ने बताया कि इस अवसर पर गोकुल भाई भट्ट के पुत्र दिलीप भट्ट सहित बड़ी संख्या में गांधीवादी और सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित थे। इस अवसर पर उपस्थित व्यक्तियों ने अपने विचार प्रकट करते हुए गोकुल भाई भट्ट के व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर उपस्थित अपने विचार प्रकट करते हुए अनेक वक्ताओं ने इस बात पर गहरी नाराजगी प्रकट की गांधी जी को अपना आदर्श मानने मुख्यमंत्री राज्य सरकार के 1वर्ष से अधिक बीत जाने के बावजूद देशभर के गांधीवादियों की आस्था के केंद्र राजस्थान सम्रग सेवा संघ परिसर को जिसे पिछले भाजपा शासन में गैर कानूनी और दुर्भावना से अधिग्रहित किया गया था, उसे आज तक अधिग्रहण से मुक्त नही किया। कार्यक्रम में मुख

SC / ST समाजों के आर्थिक सशक्तिकरण के लियें सामाजिक संगठनो की संयुक्त संवाद सत्र का आयोजन -

For the economic empowerment of SC / ST societies, a joint dialogue session of the main social organizations of Rajasthan - जयपुर | राजस्थान में अनुसूचित जाति व जनजाति उपयोजनाओं पर कानून बनाने की आवश्यकता पर बजट अध्ययन एवं अनुसंधान केन्द्र (BARC),  सूचना एवं रोजगार अधिकार अभियान (SR Abhiyan),  दलित अधिकार केन्द्र (CDR),  अखिल भारतीय दलित महिला मंच (AIDMM), राजस्थान आदिवासी अधिकार मंच  (RAAM) एवं अम्बेडकर सोशल इक्विटी एंड एम्पॉवरमेंट मिशन द्वारा एक दिवसिय बैठक का आयोजन जयपुर में किया गया | बजट अध्ययन एवं अनुसंधान केन्द्र के नेसार अहमद ने बताया कि केन्द्र एवं अन्य राज्य सरकारों की तरह राजस्थान सरकार द्वारा भी वित्त वर्ष 2017-18 से बजट के योजना व गैर योजना वर्गीकरण को समाप्त कर दिया गया है। इसके परिवणामस्वरुप राज्य में भी अनुसूचित जाति एवं जनजाति उपयोजनाओं का आधार समाप्त होने से ये उपयोजनाएं भी कमज़ोर हो गयी हैं। हालांकि राज्य सरकार ने योजना व गैर-योजना खर्च को समाप्त किये जाने के बावजूद 28 दिसम्बर 2016 को इस संबंध में एक परिपत्र जारी कर दोनों उपयोजनाओं में बजट आवंटन पूर्व की भांति यथावत्

राजस्थान - मुख्यमंत्री ने लम्बित भर्तियों की समीक्षा की -

लम्बित भर्तियों के सम्बन्ध में सरकार गंभीर मुख्यमंत्री हर माह भर्तियों की प्रगति की समीक्षा करेंगेम - जयपुर, 22 जनवरी। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे सभी विभागों में रिक्त पदों के लिए लम्बित भर्तियों को जल्द से जल्द पूरा करें। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना और सभी भर्तियों को तय समय में पूरा करना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। इसलिए मुख्यमंत्री स्वयं लम्बित भर्तियों की प्रगति की समीक्षा के लिए हर माह बैठक करेंगे। मुख्यमंत्री  गहलोत मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में विभिन्न विभागों में रिक्त पदों पर प्रक्रियाधीन भर्तियों की स्थिति पर बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भर्तियों के लिए सम्बन्धित विभाग, कार्मिक विभाग एवं राजस्थान लोक सेवा आयोग तथा कर्मचारी चयन बोर्ड आपस में समन्वय कर जल्द से जल्द चयन और नियुक्ति प्रक्रिया पूरी करें। मुख्यमंत्री ने अभ्यर्थियों के दस्तावेजों के सत्यापन का काम जल्दी और समयबद्ध रूप से पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के सहयोग से अभ्यर्थियों के दस्तावेज ऑनलाइन माध्य

दूसरे चरण में शांतिपूर्ण मतदान, दिनभर मतदाताओं में नजर आया उत्साह -

rajasthan panchayat chunav part - 2 जयपुर, 22 जनवरी। पंचायत आम चुनाव 2020 के दूसरे चरण में बुधवार को जयपुर जिले की गोविंदगढ़ पंचायत समिति की 49 तथा सांगानेर पंचायत समिति की 31 ग्राम पंचायतों में मतदाताओं ने पंच एवं सरपंच पद के लिए भरपूर उत्साह के साथ मतदान किया। दोनों पंचायत समितियों की सभी 80 ग्राम पंचायतों में मतदान शांतिपूर्ण रहा। जिला कलक्टे्रट स्थित कन्ट्रोल रूम के रियल टाइम आंकड़ों के अनुसार प्रातः 8 से 10 बजे तक गोविंदगढ़ पंचायत समिति में 13.33 प्रतिशत, दोपहर 12 बजे तक 31.38 प्रतिशत, 3 बजे तक 59.57 प्रतिशत एवं शाम 5 बजे तक 78.35 प्रतिशत मतदान हो चुका था। सांगानेर पंचायत समिति में प्रातः 8 से 10 बजे तक 16.12 प्रतिशत, दोपहर 12 बजे तक 34.63 प्रतिशत, 3 बजे तक 64.17 प्रतिशत एवं सायं 5 बजे तक 83 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके थे।

जयपुर : चायनीज मांझे की रोकथाम के - 22 टीमों ने पूरे शहर में 100 से अधिक दुकानों की जांच

District administration launched intensive campaign to stop Chinese manj, 22 teams check more than 100 shops across the cit जयपुर |  जिला कलक्टर डॉ.जोगाराम के निर्देश पर जिला प्रशासन के करीब दो दर्जन अधिकारियों ने शनिवार को जयपुर शहर के विभिन्न इलाकों में चाइनीज मांझे एवं खतरनाक धातु, लोहा चूर्ण आदि से बने मांझे की जब्ती एवं रोकथाम के लिए सघन अभियान चलाकर शहर के 100 से भी अधिक पतंग विक्रेताओं की दुकानों और स्टॉक की जांच की। जिला कलक्टर ने बताया कि शनिवार को अपराह्न 3 बजे से 6 बजे तक की गई सघन जांच के परिणाम आशानुरूप रहे और शहर मेंं किसी दुकान पर चाइनीज मांझे की बिक्री एवं स्टॉक नहीं पाया गया। उन्होंने बताया कि यह परिणाम शहर में पिछले एक महीने से चायनीज मांझे की रोकथाम के लिए किए जा रहे जिला प्रशासन की प्रयासों के अनुरूप ही था। जयपुर पतंग विक्रेता संघ ने भी चाइनीज मांझे के व्यापार पर प्रतिबन्ध लगाया है एवं विद्यालयों में शिक्षा विभाग द्वारा विद्यार्थियों की समझाइश एवं पुलिस-प्रशासन द्वारा जांच की कार्यवाही की जा रही है। डॉ.जोगाराम ने बताया कि मकर संक्रान्ति के अवसर को देखते हुए चाइनीज ए

New Year: दुनियाभर के टूरिस्ट्स को लुभाती है यह शांत जगह है, जयपुर में सेलिब्रेशन की ये जगहें

जयपुर। नए साल के आगमन में सिर्फ कुछ ही घंटे बाकी रह गए हैं। यहां उन जगहों के बारे में जानकारी दी जा रही है, जहां न्यू इयर सेलिब्रेशन यादगार बन जाएगा। जयपुर भी नए साल के जश्न के लिए तैयार है। लोगों ने कई दिनों पहले ही प्लानिंग कर ली होगी। जहां कुछ की प्लानिंग होगी कि किसी पब या बार में जाकर न्यू इयर सेलिब्रेट करें तो वहीं कुछ ने सोचा होगा कि एक स्मार्ट और बेहतर ट्रिप के जरिए नए साल का जोरदार स्वागत किया जाए। जयपुर के टॉप प्लेस की लिस्ट में नाहरगढ़ किला आता है। इसकी वजह है यहां की अलौकिक सुंदरता। यह जगह सिर्फ मॉनसून का मजा लेने के लिए ही मशहूर नहीं है, बल्कि यहां न्यू इयर भी एक अलग स्टाइल में सेलिब्रेट किया जाता है। इस किले के सामने बेहद खूबसूरत झील है, जिसकी छटा रात की जगमग रोशनी में और भी दिलकश लगती है। यहां हर साल न्यू इयर की शानदार पार्टी आयोजित की जाती है। राजस्थाली रिजॉर्ट न्यू इयर सेलिब्रेशन के लिहाज से जयपुर का राजस्थाली रिजॉर्ट काफी मशहूर है। यहां दमदार म्यूजिक से लेकर ऐल्कॉहॉल और टेस्टी फूड उपलब्ध होता है। माहौल ऐसा होता है कि कदम खुद ब खुद डांस करने के लिए थिरकने लगते हैं। यह

युवा वर्ग नोकरी देने वाला बनें - हम देंगे प्लेटफार्म - डॉ. सत्य प्रकाश वर्मा { डिक्की }

Youths should become jobbers - We will give platform - Dr. Satya Prakash Verma { DICCI } जयपुर |  दलित इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (डिक्की) द्वारा जयपुर के निजी होटल में  sc /st  युवाओं को उद्यमिता के क्षेत्र में सफलता कैसे  प्राप्त करे और बाजार में मजबूत पकड़ कैसे बनायें विषय पर सेमिनार आयोजित किया गया  |कार्यक्रम में 100 से अधिक युवा उधमियों ने हिस्सा लिया | , डिक्की राजस्थान के अध्यक्ष डॉ. सत्य प्रकाश वर्मा ने इस अवसर पर युवाओं से कहा की माना आज आर्थिक मंदी का दौर है लेकिन यह समय नयें उधमीयों के लियें एक अवसर है क्योकि इस समय केंद्र सरकार व् राज्य सरकार नई - नई सब्सिडी जारी कर रही है जिसका फ़ायदा युवा उधमियों को ज़रूर उठाना चाहियें और राजस्थान के उधमियों के लियें डिक्की हर सहायता के लियें तैयार है | कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुलपति (RISU) डॉ. ललित के. पंवार ने कहा कि आज राजस्थान में कौशल विश्वविद्यालय युवाओं की वर्तमान समय की मांग के अनुसार कौशल आधारित कोर्स संचालित कर रही है जिसे कोई भी व्यक्ति कर सकता है और शत-प्रतिशत जॉब प्राप्त करने के साथ-साथ स्वयं उद्यमी भी बन सकता है