Skip to main content

Posts

Showing posts with the label बीजेपी

देश के 14 वें राष्ट्पति रूप में " राम नाथ कोविंद " ने ली शपथ लगे "जय श्री राम के नारे "

रामनाथ कोविंद ने देश के 14  वें राष्ट्रपति के रूप में संविधान की रक्षा की शपथ ली। देश के मुख्य न्यायाधीश जगदीश सिंह केहर ने संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में आयोजित आकर्षक समारोह में कोविंद को दोपहर सवा बारह बजे पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण समारोह में राज्य सभा के सभापति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, मंत्री परिषद के सदस्य, विदेशी दूतावासों के प्रमुख, सांसद और शीर्ष सैन्य अधिकारी शामिल थे। शपथ ग्रहण के बाद नए राष्ट्रपति को 21 तोपों की सलामी दी गई। इसके बाद उन्होंने संसद को सम्बोधित किया। शपथ ग्रहण समारोह में राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, मंत्री परिषद के सदस्य, विदेशी दूतावासों के प्रमुख, सांसद और शीर्ष सैन्य अधिकारी शामिल होंगे।

गोवा में बनेगी बीजेपी की सरकार - पर्रिकर होगे सीएम

गोवा में बीजेपी ने आज सरकार बनाने के लिए राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया है | बीजेपी की पूर्व समर्थक पार्टी  एम् जी पी ने कहा है की अगर बीजेपी गोवा में मनोहर परिकर को सी एम् का उमीदवार बनाती है तो एम् जी पी अपना समर्थन और जी फ पी अपना समर्थन दे दे गी | इस के बाद बीजेपी अपनी 13 सीटो पर समर्थक पार्टियों के बदोलत बहुमत का आकड़ा 21 को छु लेगी और सरकार बना सकती है | गोरतलब हैकी कांग्रेसके पास बीजेपी से ज्यादा सीटे है 17 |

राजस्थान राजनीती एक नज़र-

राजस्थान भाजपा सरकार आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर अपनी जमीनी  पकड़ मजबूत करने में लग गई है किन्तु आगामी चुनाव बीजेपी के किये आसान नहीं होगा | राजस्थान जहाँ अपने रंग रंगीले स्वरूप के लिए विश्व विख्यात है वही राजस्था की  वर्तमान राजनीति की स्थिति  पर कुछ ऐसे भी जव्लंत मुद्दे है जो आगामी चुनाव में वसुंधरा सरकार के लिए कठिनाइयाँ  ला सकते है जैसे - गुर्जर आन्दोलन  , ललित मोदी कांड , शिक्षण संस्थानों बंद करना ( हरिदेव जोशी पत्रकारिता एवं जनसंचार  विश्व विधालय ) अम्बेडकर विश्व विधालय आदि | वर्तमान सरकार के सामने शिक्षक बेरोजगार संगठन ,शिक्षक मित्र ,आगंबाडी  महिला  कार्य कर्त्ता , गहलोत सरकार में पत्रकारों के लिए आवंटित किये गए प्लॉट्स , आदि कुछ ऐसे मुद्दे है जिनका आगामी समय में  वसुंधरा  सरकार को  सामना करना पड़  सकता है  और महंगाई ,नोट बंदी  जैसे मुद्दों को  वर्तमान में कांग्रेस पार्टी  समय -समय पर उछाल रही है जिस से आम जनता यह सोचने पर मजबूर है की नोट बंदी से गरीबो का क्या भला हुआ ,काम धाम छोड़कर बैंको के बाहर घंटो लाइनों में क्यों लगे ,और कुछ लोगो की मौत का जिम्मेदार कोन ,ऐसे कई मुद्दे है ज

BMC चुनाव में नहीं मिला किसी को बहुमत ,साथ आ सकते है बीजेपी शिवसेना

मुंबई| BMC चुनाव के लिए राहें अलग करने वाली शिवसेना और बीजेपी अब  ऐसी स्थिति  पर पहुंच गई हैं, जहां एक-दूसरे के साथ के बिना निगम पर काबिज होना मुश्किल है । दोनों को नगर निगम पर काबिज होने के लिए या तो आपस  गटबंधन  या फिर अपनी कट्टर वि रोधी कांग्रेस से हाथ मिलाना पड़ेगा, क्योंकि चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है। अब इसे मजबूरी ही कह सकते है की बीजेपी और शिव सेना को निगम पर काबिज होने के लिए एक बार फिर से साथ हाथ मिलाना पड़ सकता है | नगर निगम की 227 में से 226 सीटों के नतीजों में शिवसेना ने 84 और बीजेपी ने 81 सीटों पर जीत दर्ज की है। बीजेपी का मुंबई निकाय चुनावों में यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। पिछले बार की 31 सीटों से बढ़कर वह 81 तक आ पहुंची है। कांग्रेस ने 31, राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) 7, एनसीपी 9 और अन्य ने 14 सीटों पर जीत हासिल की है। गोरतलब  है कि 227 सीटों वाली बीएमसी में जादुई आंकड़ा 114 का है। जिसे को किसी भी पार्टी ने नहीं छुआ है | अब शिवसेना और बीजेपी के लिए अपनी  विरोधी पार्टी कांग्रेस के साथ के बिना मुंबई नगर निगम पर काबिल होना असंभव है। बता द