Skip to main content

Posts

Showing posts with the label # modi jumle

प्रधानमंत्री मोदी की हत्या का मेल - सुरक्षा एजेंसिया अलर्ट

प्रधानमंत्री मोदी की हत्या का दिल्ली पुलिस को मेल - सुरक्षा एजेंसिया अलर्ट दिल्ली | देश के प्रधानमंत्री मोदी जी की हत्या की धमकी का एक मेल दिल्ली पुलिस को मिला है सुरक्षा की द्रष्टिकोण से सुरक्षा एजेंसिया   अर्लट पर है ,दिल्ली पुलिस की अब की जाँच में सामने आया है की मेल असम राज्य के किसी क्षेत्र से आया है , अब पुलिस ip एड्रेस के आधार पर जल्द ही अपराधियों की धर - पकड़ कर सकती है ,इससे पहले भी कई बार प्रधानमंत्री मोदी की ह त्या के मेल सामने आये है  | अर्बन नक्सलवाद - हाली ने भीमा -कोरेगांव हिंसा की जांच के दौरान भी पीएम मोदी की हत्या की साजिश का दावा किया गया था जिसके चलते बुद्दिजीवी वर्ग के 5 लोगों  को नज़र बंद किया गया था ,जिसके बाद देश में एक अलग ही डिबेट स्टार्ट हुई थी - अर्बन नक्सलवाद तथा देश के  कई हिस्सों में पुलिस का विरोध - प्रदर्शन हुआ था , अब असम राज्य से प्रधानमंत्री की हत्या के मेल ने सुरक्षा एजेंसियों अर्लट कर दिया है |        

राहुल गांधी का बदला अंदाज , रेफाल मुद्दे पर घिर सकते है -

दिल्ली | आज का दिन संसद के मानसून सत्र में कुछ रोचक व् फ़िल्मी सा रहा | जहाँ भाजपा अविश्वास का सामने करने जा रही है तो दूसरी और कांग्रेस के राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर बरसे , राफेल से लेकर नोट्बंदी तक भाजपा सरकार और मोदी पर तीखे वार किये | प्रधानमंत्री मोदी से गले मिले राहुल गांधी -   आज का दिन संसद में रोचक रहा जिसका कारण राहुल गांधी अपने तीखे भाषण के बाद प्रधानमंत्री मोदी के पास जाकर गले मिले , इस द्रश्य को देख एक बार तो मोदी जी भी सकते में आ गए जिसके तुरंत बाद मोदी जी ने राहुल गांधी को दुबारा बुलाकर पीट थपथपाई ,इस द्रश्य को देखर सत्र में मौजूद सभी लोग हेरत [caption id="attachment_7711" align="alignright" width="460"] s -net[/caption] में आ गए | राफेल मुद्दे पर भाजपा के निशाने पर राहुल - राफेल मुद्दे पर राहुल गांधी ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन  और मोदी पर निशाना साधा या यह कहे की राफेल मुद्दे पर धांधली की संभावना बताया , राहुल ने कहा की उन्होंने फ़्रांस के राष्टपति से राफेल हेलिकॉप्टर रेट पर बात की थी जिस पर फ़्रांस के राष्टपति ने कहा की भारत के स

मोदी सरकार झुकी - दलित आंदोलन तेज

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने एससी/एसटी ऐक्ट पर सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल कर दी है। देश भर में दलित संगठनों ने इस फैसले के विरोध में बंद का आयोजन किया है। शीर्ष अदालत के फैसले पर दलित संगठनों की नाराजगी को देखते हुए केंद्र सरकार ने ऐलान किया था कि वह इस मसले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगी। ये विरोध अब हिंसात्मक रूप लेता जा रहा है। देश में कई जगहों पर तोड़फोड़, पथराव, गाड़ियां जलाना, दुकाने बंद करवाने जैसी घटनाएं हो रही है। इधर, केंद्र सरकार ने एससी/एसटी एक्ट मामले में सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल कर दी है। जानकारी के अनुसार, केंद्र सरकार की तरफ से सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय पुनर्विचार याचिका दायर करते हुए सुप्रीम कोर्ट को बताएगा कि सीधे गिरफ्तारी पर रोक का निर्णय उस कानून को हल्का कर देगा, जिसका उद्देश्य अधिकार विहीन वर्ग को सुरक्षा देना है। मंत्रालय अपनी याचिका में आग्रह करेगा कि ताजा निर्णय अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम-1989 के भय को खत्म करेगा, जिससे दलित हिंसा की घटनाएं बढ़ सकती हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही