Skip to main content

Posts

Showing posts with the label # bihar balika rep kand

आश्रयगृह में यौन शोषण पर दलित संगठनों का फुटा गुस्सा, किया प्रदर्शन

दिल्ली  -बिहार के मुजफ्फरपुर में एक आश्रयगृह में दो माह पूर्व बालिकाओं से योन शोषण का मामला बुलंदशहर। बिहार के मुजफ्फरपुर में एक आश्रयगृह में बालिकाओं से योनशोषण के मामले में पुलिस लापरवाही और प्रदेश सरकार का संवेदनहीन बताते हुए विभिन्न संगठनों का गुस्सा भड़क उठा। कई संगठनों के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को राजबाबू पार्क में बिहार सरकार पर मामले में कार्रवाई ने करने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री के स्तीफे की मांग की। इस दौरान मामले की सीबीआई जांच कर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की गई। सगठनों के लोग कलक्ट्रेट पहुंचे और बिहार के राज्यपाल के नाम तीन सूत्रीय ज्ञापन सौंपा। दलित संगठन भीम आर्मी समता सैनिक दल, व भीम ज्ञान चर्चा के कार्यकर्ता सोमवार को राजेबाबू पार्क में एकत्र हुए। इस मौके पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अधिवक्ता प्रदीप कुमार अशोक ने कहा कि बालिका आश्रयगृह में बच्चियों से बर्बरता स्टेट संरक्षित यौन  हिंसा का एक पैटर्न है। इसके पूरे राज्य में फैले होने की आशंका है। इसलिए पूरे राज्य के आश्रयगृहों की जांच कराई जानी चाहिए। कपिल गौतम प्रेम ने कहा कि बिहार में कानून व्यवस्थ

बिहार सरकार के खिलाफ देशव्यापी विरोध -प्रदर्शन - पूर्वांचल सेना द्वारा

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के बालिका संरक्षण गृह में मासूम बालिकाओ  के साथ हुए दुराचार, बर्बरता के मामले में बिहार सरकार द्वारा की जा रही लापरवाही, एवं घटना में शामिल अपराधियों के खिलाफ ठोस कार्यवाही ना करते हुए मामले की लीपापोती में जुटे बिहार सरकार के खिलाफ देशव्यापी विरोध -प्रदर्शन के क्रम में गोरखपुर में भी पूर्वांचल सेना, पूर्वांचल नियुध्द अकादमी, दिशा छात्र संगठन, लालदेव ताइक्वांडो अकादमी, मेरा रंग, स्त्री मुक्ति लीग, मूलनिवासी मजदूर संघ आदि संगठनों ने नगर निगम स्तिथित रानी लक्ष्मीबाई पार्क में धरना देकर विरोध-प्रदर्शन करते हुए नीतीश सरकार से इस्तीफे की मांग की । मुजफ्फरपुर में बच्चों के साथ हुए बर्बरता का आक्रोश इतना ज्यादा था की भारी बारिश के दौरान भी प्रदर्शनकारी पार्क में डटे रहें और बिहार सरकारऔर रेपिस्टों के खिलाफ नारेबाजी करते रहे ।   सुबह 10:00 बजे से शुरू हुए इस विरोध प्रदर्शन के बाद उपस्थित लोगो ने दोपहर 1.00 बजे से नार निगम से पदयात्रा निकालकर जिला अधिकारी पहुंचे जहां उन्होंने, जिलाधिकारी के माध्यम से बिहार सरकार को ज्ञापन भेजकर, मुजफ्फरपुर के बालिका संरक्षण गृह में रह र