Skip to main content

Posts

Showing posts from December, 2018

ताज नहीं है आसा कांग्रेस के लिए - मुख्यमंत्री गहलोत व् उपमुख्यमंत्री सचिन पायलेट ने की शपथ -

राजस्थान में कांग्रेस सरकार - मुख्यमंत्री व् उपमुख्यमंत्री ने ली गोपनीयता की शपथ - जयपुर | राजस्थान में कांग्रेस सरकार सत्ता में आ गई है ,जनता के जनादेश के बाद आज जयपुर के अल्बर्ट हाल के सामने राज्यपाल कल्याण सिंह ने कांग्रेस के विधायक दल के नेता { मुख्यमंत्री } अशोक गहलोत व् उपमुख्यमंत्री सचिन पायलेट को गोपनीयता की शपथ दिलाई | महा गठबंधन ने दिखाई लोकसभा से पहले शक्ति - राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में राहुल गांधी , फारुख अब्दुल्ल्हा , पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह , नवजोत सिंह सिध्हू ,व् अन्य 17 दलों के प्रतिनिधित्व मौजूद रहे जिसे लोकसभा चुनाव से पूर्व एक मंच द्वारा " शक्ति प्रदर्शन " के रूप में देखा जा रहा है | राह नहीं आसा - सचिन ,गहलोत के लिए - गौरतलब है कांग्रेस सरकार बनाने में कामयाब ज़रूर हुई है लेकिन विपक्ष भी मजबूत स्थिति में है साथ ही अन्य दल व् निर्दलित प्रत्याशी  अच्छी ख़ासी संख्या में जिसके चलते यह अनुमान लगाना सहज ही है विधानसभा आगामी समय में कितनी अच्छी तरह से चलती है देखना होगा | किसान कर्ज माफ़ी - कांग्रेस के राष्टीय

जादूगर{ अशोक गहलोत } का चला जादू बने तीसरी बार - मुख्यमंत्री

राजस्थान सरकार - अशोक गहलोत तीसरी बार बने मुख्यमंत्री - सचिन पायलेट उप - मुख्यमंत्री  राजस्थान का मुख्यमंत्री का ताज आख़िर तीसरी बार "अशोक गहलोत "के सर पर सज ही गया लेकिन ख़ास बात यह रही राजस्थान के पायलेट कहे जाने वाले " सचिन पायलेट " को भी उप-मुख्यमंत्री कांग्रेस आलाकमान द्वारा बनाया गया है . लम्बी मैराथन बैठको व् हटधर्मिता व् उपद्रव के बाद - राजस्थान में कांग्रेस सरकार को दो पायलेट मिल गये है | " मुख्यमंत्री की घोषणा होने के बाद अशोक गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी, जनता और विधायकों का शुक्रिया अदा किया और कहा कि हम राजस्थान में सुशासन लाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार के समय जो प्रोजेक्ट्स रोके गए थे उन्हें प्राथमिकता के साथ पूरा करें गे" वहीं उपमुख्‍यमंत्री चुने जाने के बाद सचिन पायलट ने कहा कि मैं कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी व अन्‍य का धन्‍यवाद देना चाहूंगा, जिन्‍होंने अशोक गहलोत जी को राजस्‍थान का मुख्‍यमंत्री चुना। मेरा और अशोक जी का जादू पूरी तरह चल गया है और हम अब सरकार बनाने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अभी हमारा लक्ष्य लोकसभा चुनाव में पार्टी को ज

राजस्थान - कांग्रेस पार्टी को सरकार बनाने का जन - आदेश

जयपुर | राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 के परिणाम आज जारी हुए जिनसे में कांग्रेस पार्टी को राजस्थान की जनता ने सरकार बनाने का मौका दिया है , 200 सीटों में से 199 सीटों के परिणाम जारी कर दिये गए है , { राजस्थान के रामगढ विधानसभा सीट से बसपा प्रत्याशी की डेथ होने के कारण राज्य चुनाव आयोग ने वहा का चुनाव निरस्त कर दिया है जो की बाद में किया जायेगा  }  199 सीटों के परिणामो की बात करे तो कांग्रेस को 99 , बीजेपी 73 ,बसपा 6 व्  सी.पी.एम. 2 अन्य 19 है , कांग्रेस पार्टी अब 13 सर्व विधायक दल की बैठक के बाद सरकार बनाने का दावा राज्य पाल के पास प्रस्तुत कर , अपना मुख्यमंत्री तय करेगी | Party Won Lead Total BSP 6 - 6 BJP 69 4 73 CPI - - - CPM 2 - 2 INC 83 16 99 NCP - - - IND 10 3 13 Others 5 1 6

सरकार कल होगी तय - विधायक प्रत्याशीयों की हार्ट बीट तेज - मतगणना कल -

विधानसभा चुनाव 2018-  मंगलवार प्रातः 8 बजे से राजस्थान एवं कॉमर्स कॉलेज में प्रारम्भ होगी जिले के 19 विधानसभा क्षेत्रों की मतग णना - जयपुर, 10 दिसम्बर। विधानसभा आम चुनाव 2018 की मतगणना राजस्थान कॉलेज एवं कॉमर्स कॉलेज में मंगलवार 11 दिसम्बर को प्रातः 8 बजे प्रारम्भ होगी। विधानसभा क्षेत्र झोटवाड़ा, सांगानेर, कोटपूतली, फुलेरा, चौमूं, दूदू, विद्याधर नगर, हवामहल, एवं किशनपोल विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना राजस्थान कॉलेज में एवं विधानसभा क्षेत्र आमेर, जमवा रामगढ़, विराटनगर, चाकसू, बस्सी, मालवीय नगर, आदर्शनगर, बगरू, शाहपुरा एवं सिविल लाइन्स विधानसभा क्षेत्रों की मतमगणना कॉमर्स कॉलेज में होगी। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि मतगणना अभिकर्ताओं एवं मतगणना से सम्बन्धित कार्मिकों को अपने निर्धारित मतगणना स्थलों पर प्रातः 6 बजे प्रवेश करना होगा। कोई भी व्यक्ति, मतगणना अभिकर्ता या कार्मिक बिना निर्धारित प्रवेश पत्र एवं सुरक्षा जांच के मतगणना स्थलों पर प्रवेश नहीं कर सकेगा। प्रातः 8 बजे बाद किसी भी मतगणना अभिकर्ता को कॉलेज परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। एक बार प्रवेश के बाद

मोदी सरकार से टकराव ......................उर्जित पटेल का इस्तीफा

बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर उर्जित पटेल ने अचानक पद से इस्तीफा दिया - दिल्ली | आज सबसे बड़ी चोकाने वाली ख़बर " उर्जित पटेल " के इस्तीफे की रही है उर्जित पटेल रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया के गवर्नर पद पर आसीन थे लेकिन आज अचानक उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया |अब रिजर्व बैंक की मुखिया की जिम्मेदारी किस के सिर होगी यह एक बड़ा सवाल है | रिजर्व बैंक के नंबर 2 के खिलाड़ी से मोदी सरकार है कफ़ा - [caption id="attachment_8864" align="alignright" width="504"] RBI - उर्जित पटेल -इस्तीफा[/caption] गौरतलब है उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य उनके  कार्यभार को संभाल सकते है लेकिन आचार्य ने अक्टोबर माह में अपने भाषण में सरकार को निशाने पर लिया था उन्होंने रिजर्व बैंक की स्वायता को लेकर मोदी सरकार को चेतावनी दे रखी थी उन्होंने अपने भाषण में कहा था की यदि केन्द्रीय बैंक की स्वायत्तता से समझौता किया जाता है तो बाजार की स्थिति खराब हो जाएगी। मोदी सरकार के दवाब में थे - उर्जित पटेल  गौरतलब है आर बी आई चीफ़ उर्जित पटेल मोदी सरकार के भारी दवाब में थे जिसके

राजस्थान में 72.36% मतदान - कहा हुई अनहोनी 460 घटना जाने यहाँ -

राजस्थान विधानसभा चुनाव - अधिकतर सर्वे कांग्रेस के पक्ष में  छुटपुट घटनाओं को छोड़ ..............शांतिपूर्ण हुए मतदान - जयपुर | राजस्थान विधानसभा चुनावों में कुल राज्यभर से 460 शिकायतें प्राप्त हुई जो भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त व राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी तक पहुंची जिसका तत्काल भी निवारण किया गया  , शिकायतों में सबसे अधिक मुख्य रूप से 400 के लगभग ईवीएम मशीनों शुरू नहीं होने,वीवीपेट मशीनें खराब होने तथा कहीं पर बिजली की समस्या आने तथा 160 स्थानों पर भाज पा नेताओं द्वारा धमकाने, बूथ कैपचरिंग, हिंसा, डराने धमकाने की शिकायतें आयी जिनका तत्काल निराकरण करने का प्रयास हुए | भाजपा के नेता श्री देवीसिंह भाटी के खिलाफ भी शिकायत दर्ज हुई ,जिन्होंने कोलायत में 1 से 40 बूथ पर छेड़छाड़  करने का प्रयास किया | टोंक के सांसद श्री सुखवीर सिंह जोनपुरिया की भी शिकायत दर्ज की गई है एग्जिट पोल - एक नज़र  विभिन्न मीडिया सर्व एजेंसियों ने दर्शाए  एग्जिट पोल - रिपब्लिक-सी वोटर ने अपने एग्जिट पोल में बीजेपी को 83-103 सीट मिलना बताया है. जबकि कांग्रेस के खाते में 81 से 101 सीटें बता रहा है. इस एग्जिट पोल म

सिविल लाइन वि .स क्षेत्र - त्रिकोणीय मुकाबले में - पंडित राजेश शर्मा { योगिराज }

जाति  - सम्प्रदायकता को छोड़ - विकास के मुद्दों पर हो राजनीती - पंडित राजेश शर्मा { योगिराज } जयपुर | राजस्थान विधानसभा चुनावों में जयपुर शहर की हॉट सीट " सिविल लाइन " विधानसभा में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल रहा है , भारतीय पंचायत पार्टी के विधायक पद के प्रत्याशी " राजेश शर्मा { योगीराज } ने सिविल लाइन विधानसभा में कांग्रेस -भाजपा का गणित बिगाड़ कर मुकाबला " त्रिकोणीय " समीकरणों में उलछ गया है | वीडियो देखें -   [embed]https://www.youtube.com/watch?v=7iPoSzBVjXk&feature=youtu.be[/embed] कौन है राजेश शर्मा { योगिराज } -  राजेश शर्मा भारतीय पंचायत पार्टी से सिविल लाइन विधानसभा से प्रत्याशी है और पेशे से ज्योतिष व् समाज सेवक है इसके साथ ही जनता से उनका सीधा संवाद है स्पष्ट व् साफ़ छवि के कारण उन्हें जन -समर्थन मिल रहा है  जो की भाजपा  - कांग्रेस का समीकरण बिगाड़ रहे है | जाति - धर्म छोड़ - विकास के आधार पर हो राजनीती -  पंडित राजेश शर्मा { योगिराज } का साफ़ कहना है आज वर्तमान की राजनीती का स्तर निम्न हो गया है भाजपा - कांग्रेस विकास ,रोजगार ,शिक्षा .महिला सुरक्ष

चुनाव आयोग सख्त - राज्य में कल सायं 5 बजे से चुनाव प्रचार थम जाएगा -

 प्रदेश में 4 करोड़ 77 लाख 89 हजार 815 हजार कुल मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे - जयपुर 04 दिसंबर। विधानसभा आम चुनाव-2018 के लिए मतदान की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। चुनाव प्रचार-प्रसार बुधवार सायं 5 बजे समाप्त हो जाएगा। राज्य के 199 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान 7 दिसम्बर को प्रातः 8 से सायं 5 बजे तक होगा। मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री आनंद कुमार ने राज्य के मतदाताओं से अपील की है कि वे देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ करने के लिए निर्भय होकर बिना किसी डर, लालच व दबाव के मतदान करें। उन्होंने कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। श्री कुमार ने बताया कि मतदान समाप्त होने के समय से 48 घंटे पूर्व की अवधि सायं 5 बजे से 7 दिसंबर सायं 5 बजे तक राजनीतिक दल अथवा प्रत्याशियों द्वारा सार्वजनिक सभा आयोजित करने, जुलूस निकालने, सिनेमा, दूरदर्शन अथवा इलेक्ट्रोनिक मीडिया के माध्यम से चुनाव प्रचार करने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। साथ ही संगीत-समारोह, नाट्य-अभिनय अथवा अन्य कोई मनोरंजन कार्यकम आयोजित कर चुनाव प्रचार पर भ

स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव के लिए आयोग ने कसी कमर -

स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव के लिए सभी तैयारियां पूर्ण - सभी मतदाताओं तक समय पर वोटर स्लिप पहुंचाने के दिए निर्देश जारी - जयपुर, 01 दिसंबर। मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री आनंद कुमार ने राज्य में स्वतंत्र, निष्पक्ष और निर्भीक चुनाव कराने के साथ मतदान केंद्रों पर आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने, दिव्यांगजनों की मदद के लिए प्रत्येक मतदान केंद्र पर दो-दो वोलेंटियर लगाने और क्षेत्र में कानून एवं व्यवस्था मजबूत बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। श्री कुमार शनिवार को शासन सचिवालय में राज्य के समस्त जिला निर्वाचन अधिकारियों (कलेक्टर्स) से चुनाव से पूर्व की गई तैयारियों पर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए चर्चा कर रहे थे। उन्होंने सभी जिला कलेक्टरों से चुनाव के दौरान मिलने वाली शिकायतों का निस्तारण तुरंत करने, आदर्श आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करवाने, पोलिंग पार्टियों की रवानगी, सुरक्षा बलों की तैनातगी, वेबकास्टिंग, ब्रेल मतपत्र, पोस्टल बैलेट पेपर के जरिए मतदान समेत चुनाव एवं कानून व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों से निरंतर अद्यतन (कन्टीन्यूअस अपडेशन) के दौ

ग्रामीणों ने निर्वाचन आयोग को दिखाया आईना - उठे सवाल

ग्रामीणों ने निर्वाचन आयोग को दिखाया आईना आयोग के दावे पर उठने लगे सवाल - भोपाल। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बीएल कांताराव 28 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव को लेकर दिन भर प्रेस ब्रीफिंग के जरिये भले ही मतदान बहिष्कार की सूचनाओं का खंडन करते हुए शेखी बघारते रहे हो ...लेकिन शनिवार को निर्वाचन आयोग को उस समय बड़ा झटका लगा तब इछावर विधानसभा क्षेत्र के गऊखेड़ी गांव के सात सौ मतदाताओं ने मतदान बहिष्कार की जानकारी दी। चुनाव के दौरान यह शायद पहला मौका होगा जब ग्रामीणों ने विकास न होने की बात को लेकर मतदान का सार्वजनिक बहिष्कार करने का निर्णय लिया होगा .. गऊखेड़ी गांव के निवासी दौलत राम ने बताया कि सत्तर साल में भले ही प्रदेश में विकास हुआ हो और विकास के नाम पर करोड़ो रूपये का विज्ञापन बांटा गया हो ...लेकिन गऊखेड़ी गांव में विकास आते आते बूढ़ा हो जाता है ...यह गांव कहीं और नहीं बल्कि शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर में स्थित है ...लेकिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कभी भी इस गांव में आज तक झांकने भी नहीं गए...गांव में न तो सड़क है न ही सिचाई के साधन और न ही ढंग का कोई स्कूल...अगर गांव में कुछ है तो भू