Skip to main content

Posts

Showing posts from June, 2017

भाजपा की दलित राज +नीति .................

हमेशा की तरह नरेन्द्र मोदी ने मीडिया की तमाम आंशकाओं को मात देते हुए बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया है। चर्चा इसलिए जोरों पर है क्योंकि कोविंद  दलित समुदाय से आते है। नब्बे के दशक को वो समय था जब देश में चारों ओर दलितों के नरसंहार की खबरें आम थी, दलितों पर हो रहे इन अत्याचारों के सिलसिले में दलित सांसदों का एक प्रतिनिधि मंडल जब तत्कालीन राष्ट्रपति से मिलने गया तो "महामहिम" ने दलित सांसदों से मिलने से मना कर दिया, उसी दिन से देश में दलित राष्ट्रपति की मां ग जोर पकडऩे लगी और इसी दबाव के कारण के.आर. नारायणन राष्ट्रपति बने। लेकिन वर्तमान समय और उस समय की परिस्थितियों में आधारभूत अंतर है, उस समय दलित सांसद एकजुट होकर लगातार दबाव बनायें हुए थे लेकिन आज अनुसूचित जाति की आरक्षित सीट से जीतकर आने वाले लगभग सभी सांसद 'सेट' है। हाल के समय में किसी दलित को राष्ट्रपति बनाए जाने जैसी कोई चर्चा या दबाव नहीं था लेकिन अचानक किसी दलित को राष्ट्रपति का उम्मीदवार बनाकर भाजपा ने सभी को चौंका दिया है। मोदी ने ये दांव चलकर विपक्ष को भी चारों खाने चित कर दिया ह

राज्य में मतदाता सूची में पंजीकरण सुनिश्चित करने हेतु 'वृहद् पंजीकरण अभियान' 1 जुलाई, 2017 से आरम्भ

जयपुर | भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मतदाता सूची में पंजीकरण से शेष रहे पात्र व्यक्तियों का पंजीकरण सुनिश्चित करने हेतु राज्य में 01 जुलाई, 2017 से 31 जुलाई, 2017 के मध्य ‘वृहद् पंजीकरण अभियान’ आरम्भ किया जा रहा है। इस अभियान के दौरान 18-19 आयु वर्ग के युवाओं एवं विशेष योग्यजन के लिए पंजीकरण हेतु विशेष प्रयास कर इनका पंजीकरण भी शत-प्रतिशत सुनिश्चित किया जाएगा। इस अवसर पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने ‘वृहद् पंजीकरण अभियान’ का पोस्टर जारी किया।  मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने यह भी बताया कि राज्य में विशेष योग्यजन का शत-प्रतिशत पंजीकरण सुनिश्चित करने हेतु संबंधित विभाग से उनके यहाँ पंजीकृत विशेष योग्यजन की सूची प्राप्त की गई है तथा इनकी मतदाता सूची के साथ मैपिंग की जा रही है। यदि किसी विशेष योग्यजन का मतदाता सूची में अभी तक पंजीकरण नहीं हुआ है तो उनसे आवेदन पत्र भरवाकर प्राप्त किए जाएंगे। इस अभियान के दौरान ज़िला निर्वाचन अधिकारियों (कलेक्टर्स) को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि यदि विशेष योग्यजन का किसी कारणवश बीएलओ से सम्पर्क नहीं हो सका है तो बीएलओ 16 जुलाई से 31 जुलाई,

हाथ से मैला ढोने वालों की पहचान कर प्राथमिकता से पुनर्वास किया जायेगा -डॉ. अरूण चतुर्वेदी

जयपुर , 22 जून। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. अरूण चतुर्वेदी ने कहा कि राज्य में हाथ से मैला ढोने की कुप्रथा को पूरी तरह से समाप्त करने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह कृत संकल्प है। हाथ से मैला ढोने वालों की पहचान कर उनका पुनर्वास कार्य प्राथमिकता से किया जायेगा। डॉ. चतुर्वेदी गुरूवार को अम्बेडकर भवन के सभागार में हाथ से मैला ढोने वाले कार्मिकों के नियोजन का प्रतिषेध और उनका पुनर्वास के लिए गठित राज्य स्तरीय सतर्कता समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए मैला ढोने वालों की पहचान एवं पुनर्वास कार्य की विस्तार से समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि स्वायत शासन विभाग द्वारा 1220 स्वच्छकारों की सूची प्राप्त हुई है जिनकी अनुजा निगम द्वारा सत्यापन करने पर 577 स्वच्छकार योग्य पाये गये इनमें से 322 में प्रत्येक को एकमुश्त 40 हजार रुपये की वित्तीय सहायता दी गई।उन्होंने नगर पालिकाओं, नगर निगमों, रेल्वे स्टेशनों, छावनियों में नियमानुसार सामुदायिक शौचालय बनाने के निर्देश दिये। डॉ. चतुर्वेदी ने अनुजा निगम को स्वच्छकारों को छोटे-छोटे धन्धे शुरू करने के लिए ऋण दिलाने के लिए योजनाओं का व्यापक प्रच

राजस्थान को मिलेगी विश्वस्तर पर नई पहचान, अगस्त में होगा राजधानी में ‘फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन’

राजस्थान को एजुकेशन हब कहा जाता हैं। प्रदेश के कई क्षेत्रों को शिक्षा जगत में विशिष्ट कार्य करने पर विशेष पहचान मिली हैं। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे 2017 में रिसर्जेंट राजस्थान व ग्राम की तर्ज पर ही जयपुर फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन का आयोजन करने जा रही हैं। इस आयोजन से राजस्थान के शिक्षक वर्ग, छात्र वर्ग व शिक्षा जगत में राजस्थान को विश्वस्तर पर नई पहचान मिलेगी। एज्युकेशन फेस्टिवल को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने पर दिया जा रहा है जोर 5 से 6 अगस्त को राजधानी के जयपुर एग्जिबिशन एंड कन्वेंशन सेन्टर (JECC) में एज्युकेशन फेस्टिवल आ योजित होने जा रहा है। फेस्टिवल की तैयारियों को लेकर बुधवार को शासन सचिवालय में मुख्य सचिव ओपी मीणा की अध्यक्षता में फेस्टिवल की तैयारियों की समीक्षा की। इस समीक्षा बैठक में माध्यमिक शिक्षा विभाग और उच्च शिक्षा विभाग के आला अधिकारी भी मौजूद रहे। समीक्षा बैठक के दौरान मुख्य सचिव ने एज्युकेशन फेस्टिवल को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने पर जोर दिया। विश्वभर के विशेषज्ञों का होगा जमावड़ा इस फेस्टिवल का आयोजन राजस्थान को एज्युकेशन हब बनाने के लिहाज किया जा रहा है। फेस्ट का नाम ‘फे

भारत के मूल विचारो की रक्षा के लिए पार्टी तैयार रहे - सोनिया गाँधी

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने पार्टी कार्यसमिति  की बैठक में  कहा की पार्टी को भारत के के मूल विचारो की रक्षा के लिए तैयार रहना चाहिए | केंद्र सरकार  भारत की मूल विचारो को खत्म करने की कोशिश कर रही है | बीजेपी की सरकार जिन योजना और सफ़लताओ का दावा करती कर रही है |वे सभी यूपीए सरकार ने शुरू की थी |